प्रतापगढ़ जिले में फर्जी एसटीएफ बनकर छात्र को अगवाकर ले जा रहे किडनैपर्स की पुलिस से मुठभेड़ हो गई. मुठभेड़ में पुलिस ने अपहृत छात्र को उनके च्नागुल से छुड़ाते हुए तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है.

मामला नगर कोतवाली के गोड़े गांव का है, जहां छात्र का अपहरण कर भाग रहे पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई. दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग हुई.फायरिंग के बाद पुलिस ने तीन शातिर बदमाशों को दबोच लिया. साथ ही छात्र जमील को भी पुलिस ने कार से बरामद कर लिया. जबकी तीन अन्य बदमाश फरार होने में सफल रहे.

अपर पुलिस अधीक्षक पुडेन्दु सिंह के मुताबिक छात्र का अपहरण फूलपुर के पास से किया गया. जबकि छात्र इलाहाबाद के मऊआइमा इलाके का रहने वाला है. छात्र का अपहरण फिरौती के लिए किया गया था.

बदमाशों ने पहले फूलपुर से बाइक को लूटकर छात्र को अगवा किया. फिर खुद को एसटीएफ बताकर परिजनों से 1 लाख रुपए की फिरौती मांगी. इतना ही नहीं पैसे न मिलने पर जेल भेजने की धमकी भी दी. जिसके बाद परिजनों को पैसा लेकर प्रतापगढ़ के रानीगंज थाना इलाके में बुलाया. परिजन पैसे लेकर पहुंचे तो बदमाशों ने अपनी लोकेशन बदल दी.

जिसके बाद परिजनों ने कोतवाली में जाकर इसकी सूचना दी. जिसके बाद रानीगंज पुलिस एक्टिव हुई. नगर कोतवाली के गोड़े गांव के पास मुठभेड़ कर तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया. मुठभेड़ में किसी को भी गोली नहीं लगी.