आज के दौर में पॉर्न तक हमारी पहुंच बहुत आसान हो गई है। इसके कारण बहुत से लोगों को बड़ी आसानी से इसकी लग भी लग जाती है। बहुत से लोगों को यही लगता है कि पॉर्न देखना खतरनाक है। एक रिसर्च में तो यहां तक कहा गया है कि पॉर्न देखने से सेक्स के दौरान पुरुषों के परफॉर्मेंस में कमी आती है। लेकिन पॉर्न हमेशा ही नुकसानदेह नहीं होता। कई बार दोनों पार्टनर के बीच उत्तेजना हासिल करने में पॉर्न का पॉजिटिव इम्पैक्ट भी होता है। वैसे तो बहुत से लोग पॉर्न देखते हैं लेकिन आज भी सोसायटी में लोग इसके बारे में खुलकर बात करने से कतराते हैं। हम आपको बता रहे हैं पॉर्न किसी रिश्ते के लिए किस तरह से फायदेमंद है...
अगर आप सेक्स के मामले में नौसिखाया हैं यानी सेक्स के बारे में आपको कुछ नहीं पता या फिर आप एक ही जैसा सेक्स कर-कर के थक चुके हैं तो ऐसे में पॉर्न आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। अगर आप पार्टनर के साथ मिलकर पॉर्न देखते हैं तो आप अपने बेडरूम को रोमांचक बना सकते हैं। इससे आपको यह पता चलेगा कि किस चीज से आपको उत्तेजना महसूस होती है और कौन सा मूव आपकी उत्तेजना को खत्म करता है। साथ ही इससे आप अपने शरीर को भी एक्सप्लोर कर पाएंगी।
अगर आप सिंगल हैं और फिलहाल सेक्शुअल पार्टनर की खोज नहीं कर रहे हैं तो पॉर्न का इस्तेमाल आप अपनी एनर्जी और सेक्शुअल फ्रस्टेशन यानी तनाव को कम करने के लिए भी कर सकते हैं। मास्टरबेशन के दौरान उत्तेजना महसूस करने के लिए भी पॉर्न देख सकते हैं।
पॉर्न एक बहुत बड़ा और विस्तृत टर्म है और इसमें सेक्स से जुड़ी हर तरह की कामोत्तेजना शामिल होती है। लिहाजा कपल्स के लिए एकसाथ बैठकर पॉर्न देखना हेल्दी है या नहीं यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप क्या देखते हैं। अगर दोनों पार्टनर पॉर्न के जरिए गलत एक्सपेक्टेशन सेट कर रहे हैं तो यह गलत है। लेकिन उत्तेजना महसूस करने के लिहाज से कई बार इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
किसी भी रिश्ते की शुरुआत में तो दोनों पार्टनर के बीच पैशन, जोश और उत्साह की कोई कमी नहीं होती। लेकिन जैसे-जैसे रिश्ता पुराना होता जाता है उसमें उत्साह की कमी होने लगती है। ऐसे समय में पॉर्न का इस्तेमाल फोरप्ले के रूप में किया जा सकता है। कपल्स की मानें तो एक साथ पॉर्न देखने से उनका मूड सेट हो जाता है और इसके बाद दोनों का सेक्स सेशन बेहतरीन बन सकता है।