नई दिल्ली,  तनुश्री दत्ता ने पुलिस में शिकायत किए जाने के बाद अब महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग में शिकायत दर्ज कराई है. इंडियन पीनल कोड की धारा 354, 354(a), 34 और 509 के तहत एक्ट्रेस ने नाना पाटेकर, गणेश आचार्य, सामी सिद्दीकी, निर्देशक राकेश सारंग के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है. इसके अलावा संपत्ति की तोड़फोड़ और धमकी के लिए तनुश्री ने मनसे के कार्यकर्ताओं के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 154 के तहत शिकायत दर्ज कराई है.

तनुश्री ने साल 2008 में हुई इस पूरी घटना का जिक्र अपने शिकायत पत्र में विस्तार से किया है. तनुश्री ने अपनी शिकायत में लिखा है कि उस वक्त उनके कहने पर पुलिस ने शिकायत तो दर्ज की लेकिन वैसे नहीं जैसे उन्होंन कहा था. बातों को तोड़ा मरोड़ा गया और गलत ढंग से लिखा गया. इसके अलावा इस शिकायत को मराठी में लिखा गया था, बावजूद इसके कि उन्हें और उनके पिता को मराठी नहीं आती थी.

अपने बचाव में क्या बोले नाना पाटेकर?

कानूनी कार्रवाइयों की खबर सामने आने के बाद नाना ने अपने घर पर मीडिया से बातचीत की है. नाना ने कहा, "10 साल पहले जो सच था वही आज भी है. मुझे जो कहना था मैंने कह दिया. थैंक्यू वेरी मच." नाना ने कहा, "मेरे वकील ने कहा है कि किसी भी चैनल से बात न करो. नहीं तो मैं हमेशा आपसे मिलते ही रहता हूं. मुझे कोई दिक्कत नहीं थी... थैंक्यू वेरी मच."