मुंबई: #metoo मूवमेंट के बाद बॉलीवुड की कई कहानियां बाहर आ रही हैं, जिसमें से एक कहानी है अपने वक्त की फेमस प्रोड्यूसर और राइटर विंता नंदा की. उन्होंने बॉलीवुड के 'संस्कारी' एक्टर कहे जाने वाले आलोकनाथ पर यौन शोषण का आरोप लगाया है. ZeeNews से हुई खास बातचीत में विंता ने बताया कि उनके साथ आखिर क्या हुआ था और उस दौरान क्यों उनकी बात नहीं सुनी गई.
विंता ने बताया, "मुझे नहीं पता मैं अभी क्या करने वाली हूं. मैंने जो किया, वह बस कर दिया. मैंने अपने फेसबुक पेज पर अपनी पूरी कहानी लिख दी. मैंने नहीं सोचा था कि यह इतना बड़ा मुद्दा बन जाएगा और इतने शेयर्स हो जाएंगे. लेकिन मैं इस बात से खुश हूं कि बात इतनी बढ़ गई है. अभी मेरे पास कोई जवाब नहीं है, क्योंकि मैंने जो किया वह मेरे अंदर का जो सबसे बड़ा बोझ था वह उतर चुका.''
एक तो यह मूवमेंट आने की ज़रूरत ही नहीं पड़नी चाहिए. बेसिक रेस्पेक्ट जो वर्क प्लेस पर होता है, वैसे ही रहना चाहिए. लेकिन क्योंकि डिस्क्रिमिनेशन है, डिफरेंसेस हैं और हम मेल डोमिनटेड दुनिया में रहते हैं तो महिलाओं के साथ डिस्क्रिमिनेशन होता ही है. उस वजह से हमें इस मूवमेंट का स्वागत करना चाहिए.
पहले कोई रिएक्शन नहीं मिला
विंता ने बताया,  ''जब यह हादसा हुआ था, उस वक़्त भी मैंने यह लिखा था. एक मैगजीन में पूरा आर्टिकल लिखा था, इंटरव्यूज दिए थे जिसमें हर चीज़ बताई थी और वह प्रिंट भी हुई थी. लेकिन कोई रिएक्शन नहीं आया. मगर कल मैंने सिर्फ अपने दोस्तों के लिए यह चीज़ लिखी थी जिसमें पूरी दुनिया उठ के सामने आ गई तो उन दिनों में और आज में इतना फर्क हुआ है.
सबकुछ भूलने की सलाह दे डाली
इस बारे में विंता ने जिसको भी बताया, 'सबने यही कहा कि इससे कुछ नहीं होने वाला, सबकुछ भूल जाओ. मैं अकेली लड़ाई नहीं लड़ सकती थी, उसके बाद मैंने और बहुत-सी बातें झेलीं, क्योंकि एक बार आपने अपना साइलेंस कॉन्वेय कर दिया, दुनिया को बता दिया कि आप डर गई हैं और आप नहीं बात करेंगी तो आपको फिर भुगतना पड़ता है.'
आलोकनाथ स्वीकार नहीं करेंगे
विक्टिम विंता ने कहा, ''आलोकनाथ से क्या उम्मीद करेंगे, वो तो मना ही करेंगे. वो स्वीकार नहीं करेंगे कि मैंने ऐसा किया. मेरे बहुत सारे दोस्त हैं, जो मुझे एडवाइस कर रहे हैं. फिलहाल मैं ज्यादा से ज्यादा लोगों से बात करना चाहती हूं, ताकि यह बात ज्यादा लोगों तक पहुंचे और जो मेरे साथ हुआ, किसी और लड़की के साथ नहीं हो. अब मैं सोच-समझकर ही कोई कदम उठाऊंगी ताकि मेरे काम को कोई नुकसान न हो. मैं सच बोल रही हूं और अगर वह सच छुपा रहे हैं तो वह डरे हुए हैं. तो अब उन्हें अपने डर को जवाब देना है.''
बता दें कि विंता ने भारत में जोरों पर उभर रहे #MeToo कैंपेन के तहत यह किस्‍सा बयां किया है. इस पर आलोकनाथ ने आगे कहा, 'हालांकि हम सिर्फ महिला का ही पक्ष सुनते हैं क्‍योंकि उन्हें कमजोर माना जाता है.'
विंता की फेसबुक पोस्ट के मुताबिक वह आलोक नाथ की पत्नी की सहेली थीं. इसी का फायदा उठाकर आलोक नाथ ने उनका शोषण किया. विंता ने लिखा है, 'उन्होंने मेरे साथ शारीरिक दुर्व्यवहार किया, जब मैं साल 1994 के मशहूर शो 'तारा' के लिए काम कर रही थी.'