बेंगलुरु: जनता दल-एस ने मंगलवार को कहा कि वह कर्नाटक में तीन लोकसभा सीटों पर होने वाले उपचुनावों में अपनी गठबंधन सहयोगी कांग्रेस को ‘परेशानी’ में नहीं डालेगी. पार्टी महासिचव दानिश अली ने संकेत दिया कि जनता दल-एस पुराने मैसूरू क्षेत्र में आने वाली मांड्या सीट पर अधिक ध्यान देगा जहां वोकालिगा इलाके में पार्टी की मजबूत स्थिति है. अली ने कहा, ‘हम अपनी सहयोगी कांग्रेस को परेशानी में नहीं डालेंगे और केवल उस सीट पर ध्यान देंगे जो हमारे पास थी.’

जनता दल-एस के कुछ नेता जहां यह चाहते हैं कि मांड्या सीट से मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की पत्नी अनिता कुमारस्वामी मांड्या सीट से चुनाव लड़ें, वहीं पार्टी का दूसरा तबका चाहता है कि इस सीट से पार्टी प्रमुख एच डी देवगौड़ा के पौत्र तथा लोकनिर्माण मंत्री एच डी रेवन्ना के पुत्र प्रज्ज्वल चुनाव लड़ें.

पार्टी नेताओं के एक तबके ने मंगलवार को रामनगर में एक बैठक में अनिता कुमारस्वामी के नाम की घोषणा कर दी जिससे पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच आयोजन स्थल पर ही वाकयुद्ध होने लगा. बैठक में यहां तक घोषणा की गई कि अनिता कुमारस्वामी 11 अक्टूबर को अपना नामांकन दाखिल करेंगी.

तीन लोकसभा सीटों-बल्लारी, शिवमोगा और मांड्या के लिए तीन नवंबर को चुनाव होंगे. मतगणना छह नवंबर को होगी. ये सीट भाजपा नेता श्रीरामुलू, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी एस येदियुरप्पा और जनता दल-एस के सी एस पुत्तराजू के इस्तीफों के कारण रिक्त हो गई थीं. इन तीनों नेताओं ने खुद के विधानसभा के लिए निर्वाचित होने पर लोकसभा सीटों से इस्तीफा दे दिया था.