ओडिशा और आंध्र प्रदेश के लिए खतरे की घंटी बजी है. मौसम विभाग ने इन प्रदेशों के लिए चक्रवात की चेतावनी जारी की है. बंगाल की खाड़ी पर बना कम दबाव का क्षेत्र और गहरा हो गया है, जिसकी वजह से गुरुवार को कई जिलों में भारी बारिश हुई है.मौसम विभाग ने मौसम विभाग ने दक्षिणी ओडिशा और उत्तरी आंध्र प्रदेश के लिए चक्रवात की चेतावनी जारी की है. एक बुलेटिन में कहा कि पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी और आसपास के इलाकों पर बना दबाव का क्षेत्र पश्चिम की तरफ बढ़ गया है और गहरे दबाव में बदल गया है. यह ओडिशा में गोपालपुर के 300 किलोमीटर पर्व-दक्षिणपूर्व में केंद्रित है.

मौसम विभाग के मुताबिक, ‘‘इसके (दबाव के) तेज होकर चक्रवाती तूफान में बदलने और फिर पश्चिम-उत्तरपश्चिम की तरफ बढ़ने की उम्मीद है और यह गोपालपुर के निकट दक्षिण ओडिशा व उत्तर आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों के होकर गुजरेगा.’’

मौसम विभाग ने कहा कि बुधवार से ही ओडिशा के कुछ इलाकों में भारी बारिश हो रही है वहीं अगले 48 घंटों के दौरान अधिकतर स्थानों पर बारिश और आंधी भी आने की आशंका है. इसके बाद हालात में सुधार होगा.
मौसम विभाग ने कहा कि दबाव की वजह से बालेश्वर, भद्रक, पुरी, गंजम, खोरधा, जगतसिंहपुर, कटक, केंद्रपाड़ा और जाजपुर जिलों में गुरूवार को भारी बारिश हुई.