नई दिल्ली: भाजपा ने बृहस्पतिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर राष्ट्रीय सुरक्षा का मखौल उड़ाने का आरोप लगाया और कहा कि वह राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर झूठ फैलाकर अपना राजनीतिक करियर बनाने का प्रयास कर रहे हैं. भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने गांधी पर उनके इस आरोप के लिए निशाना साधा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भ्रष्ट हैं. प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष स्वयं बिचौलियों के एक परिवार से आते हैं. 

पात्रा ने आरोप लगाया कि उनके परिवार ने 2014 से पहले हुए प्रत्येक रक्षा सौदे से पैसा बनाया. उन्होंने आरोप लगाया कि गांधी और उनकी पार्टी ने देश की सुरक्षा को खतरे में डाला.

उन्होंने आरोप लगाया कि गांधी राफेल सौदे पर झूठ फैलाकर अपना राजनीतिक करियर बनाने का प्रयास कर रहे हैं. पात्रा ने कहा कि गांधी झूठ बोल रहे हैं और राष्ट्रीय सुरक्षा का मखौल उड़ा रहे हैं. 
उन्होंने कहा कि एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने राफेल सौदे को ‘तस्वीर बदलने वाला’ बताया है लेकिन गांधी उसके बिल्कुल उलट कह रहे हैं. पात्रा ने कहा कि अब देश के लोग निर्णय करेंगे कि किस पर विश्वास करना है, वायुसेना प्रमुख या गांधी पर.

इससे पहले दिन में गांधी ने राफेल सौदे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भूमिका की जांच की मांग की और आरोप लगाया कि वह एक ‘भ्रष्ट व्यक्ति’ हैं जिन्होंने 36 विमानों की खरीद में अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया.

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल सौदे में भूमिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ जांच की मांग की और आरोप लगाया कि वह एक ‘भ्रष्ट व्यक्ति’ हैं जिन्होंने 36 लड़ाकू विमानों की खरीद में अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया.

राहुल गांधी ने जांच की मांग ऐसे समय की है जब एक दिन पहले फ्रांसीसी वेबसाइट में छपी एक खबर में कहा गया कि राफेल बनाने वाली कंपनी दसॉल्ट एविएशन को भारत में अपने ऑफसेट साझेदार के तौर पर अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस को ही चुनना था. बता दें सरकार लगातार कहती रही है कि उसकी दसॉल्ट द्वारा रिलायंस डिफेंस को चुनने में कोई भूमिका नहीं है.