बिलासपुर । आज सुबह कलेक्ट्रेट के पास दिनदहाड़े एक महिला ठगी की शिकार हो गई। पुलिस वाले बनकर आए दो युवकों ने अधिवक्ता की मां से कहा-शहर में लूट की घटनाएं हो रही है। एसपी साहब ने हमें भेजा है चेकिंग के लिए। अपने गहने उतारकर रख लीजिए। वृद्धा युवकों के झांसे में आ गई और सोने के हार व कंगन समेत डेढ़ लाख के गहने रूमाल में लपेटने लगी तब एक युवक महिला से बात करने लगा और दूसरा युवक अपने जेब में रखे नकली गहने देकर असली गहने ले लए और दोनों पैदल चले गए। घर आकर जब महिला ने अपने अधिवक्ता बेटे को घटना की जानकारी दी तब पता चला कि युवकों ने नकली गहने दे दिए। तत्काल पीडि़त परिवार सिविल लाइन थाने पहुंचा और घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है। सीसी टीवी पुâटेज से आरोपियों की तलाश की जा रही है। 
मिली जानकारी के अनुसार वेयर हाउस रोड में रहने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता विनय दुबे की माता श्रीमती विद्यावती दुबे, उम्रं ६८ साल रोज की तरह आज सुबह ६ बजे मार्निंग वॉक पर निकली थी। वे ६.३० बजे कलेक्ट्रेट के सामने पैदल जा रही थी तभी जिला न्यायालय के सामने दो युवक उनके पास आए और विद्यावती से कहा-हम पुलिस वाले हैं, एसपी साहब ने भेजा है। शहर में लूट की घटनाएं हो रही है। आप जो गहने पलनी हैं उसे उतारकर रख ले दोनों युवक बुजुर्ग महिला से बात करने लगे। इसी बीच महिला ने सोने का हार, कंगन, ब्रेसलेट उतारकर अपने रूमाल में रख लिया। बातों ही बातों में एक दूसरे युवक  ने नकली गहने निकालकर महिला को दे दिए और असली गहने लेकर चले गए। जब महिला घर पहुंची तो पता चला कि विद्यावती को युवकों द्वारा असली गहने के बदले नकली गहने देने के मामले में पुलिस पतासाजी कर रही है। कलेक्ट्रेट के सामने जिला न्ययालय और आसपास सीसीटीवी पुâटेज खंगाले जा रहे हैं। बताया जाता है कि पुलिस वाले बनकर आए दोनों युवक पैदल महिला तक पहुंचे थे और ठगी की घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो गए। इसके पहले भी शहर में दिनदहाड़े ठगी व लूट की घटनाएं हुई है। ज्ञात हो कि जिले के रतनपुर थाना क्षेत्र में दो दिनों में दो लूट की घटनाएं व हत्या की वारदात हुई है और आज दिनदहाड़े शहर में बुजुर्ग महिला ठगी की शिकार हो गई।