चेहरा हो या होठों की स्किन, कुछ समय बाद इन पर डेड स्किन जमा होने लगते हैं, जिसे हटाना बहुत जरूरी है। होठों पर जमा डेड स्किन को साफ न करने से वह काले होने लगते हैं, जो देखने में काफी भद्दा लगता है। ऐसे में होंठों की डेड स्किन निकालने के लिए उसे एक्सफोलिएट (Exfoliate) करना बहुत जरूरी है।

 

होंठों को एक्सफोलिएट करना क्यों है जरूरी?
होंठों को सूखी और मृत त्वचा को निकालने के लिए उसे एक्सफोलिएट (Exfoliate) करना बहुत जरूरी होता है। एक्सफोलिएशन करने से होंठ न सिर्फ मुलायम होंगे बल्कि इससे उनका कालापन भी दूर होगा। चलिए जानते हैं कैसे करें होंठों को एक्सफोलिएट।

 

कैसे करें होंठों को एक्सफोलिएट?
सही स्क्रब का इस्तेमाल

होंठों पर ऐसे स्क्रब का इस्तेमाल करें, जिसमे ज्यादा हार्ड कैमिकल्स न हो। जोजोबा ऑयल और शिया बटर को मिलाकर आप होंठों के लिए नेचुरल लिप स्क्रब तैयार कर सकते हैं। इस नेचुरल स्क्रब से होंठ न सिर्फ मुलायम होंगे बल्कि उनका कालापन भी दूर हो जाएगा। इसके अलावा आप चीनी-जैतून का तेल या चीनी-शहद को मिलाकर भी लिप स्क्रब कर सकते हैं।

 

 

हल्के हाथों से करें स्क्रब
होंठों पर ज्यादा सख्ती से स्क्रब न करें। इसके लिए अपनी उंगलियों को सर्कुलेशन मोशन में होंठों पर घुमाए और उसके स्क्ब को टिश्यू पेपर से साफ कर लें।

 

रोजाना न करें स्क्रब
एक्सफोलिएट करना अच्छी बात है लेकिन स्क्रब का इस्तेमाल रोजाना न करें। आप हफ्ते में कम से कम 2 बार स्क्रब करें।

 

स्क्रबिंग के बाद लगाएं मॉइस्चराइज
एक्सफोलिएट करने के बाद होठों पर मॉइस्चराइज जरूर लगाएं। आप चाहें तो इसकी बजाए लिप बाम या पेट्रोलियम जेली भी लगा सकते हैं।

 

इन बातों का भी रखें ध्यान
-होंठों पर ऐसा लिप बाम और लिपस्टिक्स लगाएं, जिनमें एसपीएफ की मात्रा 20 हो। इससे होंठ खराब नहीं होंगे।
-पानी की कमी के कारण होंठों की नमी खो जाती है, जिससे वो रूखे और काले होने लगते हैं। ऐसे में हर रोज कम से कम 8 गिलास पानी जरूर पीएं।
-खाने, नहाने या चेहरा धोने के बाद लिप बाम जरूर लगाएं। इसकी बजाए आप बटर या मलाई भी लगा सकते हैं।
-मौसम चाहे कोई भी हो लेकिन होंठों पर उसका इफेक्ट न हो इसके लिए शरीर में विटामिन ए और बी कॉम्प्लेक्स की कमी न होने दें। इसके लिए अपनी डाइट में हरी सब्जियां, दूध, घी, मक्खन, ताजे फल और जूस शामिल करें।
-रात को सोने से पहले अपनी नाभि में देसी घी, सरसों का तेल या फिर नारियल का तेल लगाएं। इससे होंठों में नमी बनी रहेगी और वह फटेंगे नहीं।