जयपुर: राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के अंतिम दौर में पहुंचने के साथ ही राजनीति के तमाम महारथी राजस्थान के रण में उतर गए हैं और थार के आसमान में इन दिनों बड़ी संख्या में हेलीकॉप्‍टर और हवाई जहाज दिख रहे हैं. राज्य की 200 में से 199 सीटों के लिए सात दिसंबर को होने वाले मतदान का प्रचार पांच दिसंबर की शाम थम जाएगा. इस बीच कांग्रेस व भाजपा सहित अन्य दलों ने अपने शीर्ष नेताओं को प्रचार अभियान में झोंक दिया है जिनके ‘जहाज’ और ‘चॉपर’ इन दिनों थार में धूल उड़ाते नजर आ रहे हैं. विमान को स्थानीय लोग ‘चीलगाड़ी’ भी कहते हैं.

सूत्रों ने बताया कि भाजपा इन दिनों दस और कांग्रेस पांच हेलीकॉप्‍टर का इस्तेमाल कर रही है. इसके अलावा बसपा प्रमुख मायावती व रालोप के अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल भी हेलीकॉप्‍टर से आते जाते हैं. यही कारण है कि इन दिनों राज्य के दूर दूराज के ऐसे-ऐसे इलाकों में भी ये ‘चीलगाड़ियां’ उड़ती दिख जाती हैं जहां पहले कल्पना भी नहीं की जाती थी.
वहीं कांग्रेस की ओर से पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की पांच-पांच, ज्योतिरादित्य सिंह की तीन, नवजोत सिंह सिद्धू की चार सहित लगभग 20 जनसभाएं सोमवार को राज्य के विभिन्न हिस्सों में हुईं.
कांग्रेस के सूत्रों ने बताया कि पार्टी की योजना एक से पांच दिसंबर तक 200 विधानसभा क्षेत्रों में छोटी मोटी 10,000 सभाएं करने की है जिनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से लेकर स्टार प्रचारक, पड़ोसी राज्यों व राजस्थान के बड़े नेता तथा जिला स्तरीय पदाधिकारी संबोधित करेंगे. इस लिहाज से मंगलवार बड़ा दिन होगा जब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तीन सभाएं राज्य में होनी है. इसी दिन प्रधानमंत्री मोदी भी जयपुर सहित तीन जगहों पर सभाएं करेंगे.