नई दिल्ली: कांग्रेस ने किसानों को लेकर पंडित जवाहरलाल नेहरू के बारे में की गई टिप्पणी को लेकर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार किया और कहा कि मोदी कभी भी नेहरू के कद की बराबरी नहीं कर सकते और उनकी पहचान अप्रासांगिक बातें करने वाले एक नेता की ही रहेगी. पार्टी ने यह भी आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ऐतिहासिक तथ्यों को लगातार तोड़-मरोड़कर पेश कर रहे हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने ट्वीट कर कहा, ‘मोदी जी भारतीय किसान और उनकी समस्याओं पर विशेषज्ञ होने का दावा कर रहे हैं. पंडित जी का अपमान करना मोदी जी की आदत बन चुकी है. इतिहास को तोड़ मरोड़कर प्रस्तुत करना प्रधानमंत्री के पद को शोभा नहीं देता और उनके ऐसे वक्तव्य निंदनीय हैं. 

उन्होंने कहा,‘पंडित नेहरू ने भारत के गांव-गांव की बैलगाड़ी से यात्रा कर भारत के किसान की विवशताओं, आशाओं और आकांक्षाओं को समझा था, मोदी जी की तरह हैलीकाप्टर से नहीं. उन्हें पंडित जी पर ज्ञान वर्धन के लिए उनका 1929 के कांग्रेस के लाहौर अधिवेशन और 1937 के फैजपुर में दिए गए भाषणों को पढ़ना चाहिए.’ 

आनंद शर्मा ने कहा, ‘नेहरू एक भद्र और विशाल व्यक्तित्व वाले थे. उनसे तुलना करके मोदी हमेशा अप्रासंगिक बयान देने वाले के तौर पर याद किए जाएंगे.’ दरअसल, सोमवार को एक चुनावी सभा में नेहरू का नाम लिए बिना कहा था कि एक नेता गुलाब लगाते थे और उन्हें बागवानी का भी ज्ञान था, लेकिन खेती के बारे में उन्हें कुछ नहीं पता था और इस कारण किसानों को कठिनाई का सामना करना पड़ा.