मॉस्को: रूस के राष्ट्रपति कार्यालय (क्रेमलिन) ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से मुलाकात से इनकार का रूसी नेता पर कोई असर नहीं पड़ा है. पिछले हफ्ते ब्यूनस आयर्स में जी-20 शिखर सम्मेलन के इतर दोनों नेताओं के बीच बातचीत होनी थी, लेकिन ट्रंप ने अचानक मुलाकात रद्द कर दी.  रूस द्वारा यूक्रेन के तीन नौसैनिक पोत जब्त करके उनके नाविक दल को बंधक बना लिए जाने की घटना को मुलाकात रद्द करने की वजह बताया गया था. पुतिन के विदेश मामलों के सलाहकार यूरी उशाकोव ने कहा कि रूसी नेता ने अपमानित महसूस नहीं किया.  हालांकि, उशाकोव ने कहा कि बहुत सारे मुद्दों, जिन पर चर्चा की जरूरत है, के बीच क्रेमलिन को मुलाकात रद्द होने का अफसोस है.

उन्होंने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि पुतिन और ट्रंप ने जी-20 में एक रात्रिभोज के दौरान करीब 10-15 मिनट तक औपचारिक बातचीत की, नौसेना वाली घटना और यूक्रेन के हालात पर चर्चा की. उशाकोव ने कहा कि भविष्य में संभावित मुलाकात का कार्यक्रम तय करना अब अमेरिका पर निर्भर करता है.