भोपाल । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (अपराध) शिवेश सिंह बघेल तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर (दक्षिण) डॉ. संजीव उईके, न.पु.अ. केंन्ट के. बी. उपाध्याय के मार्गदर्शन में थाना प्रभारियों एवं क्राईम ब्रांच की टीम तथा थानों में पदस्थ अधिकारी/कर्मचारियों एवं मुखबिरों को अवैध हथियार एवं मादक पदार्थों की तस्करी में लिप्त आरोपियों की तलाश पतासासी हेतु संघन अभियान के संदर्भ में दिनाँक 13.02.19 को क्राईम ब्रांच की टीम को विश्वसनीय मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि बिलहरी का प्रेम मलिक अपने दो साथियो के साथ चेतना मैदान पानी की टंकी के पास खड़ा है जो आपराधिक पृव्रत्ति का है कोई गंभीर वारदात घटित करने की फिराक में है।
सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये  वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देशन में दबिश देते हुये मुखबिर के बताये हुलिये के 3 व्यक्तियों को पकडा गया पूछताछ पर तीनो ने अपने नाम क्रमशः प्रेम उर्फ अनमोल मलिक,  रंजीत विश्वकर्मा, बडकू सोनकर बताये। तीनों की तलाशी ली गयी, तलाशी लेने पर प्रेम मलिक कमर में एक देशी पिस्टल, एवं एक कट्टा, तथा 2 कारतूस,  रंजीत विश्वकर्मा से देशी एक पिस्टल, एवं एक कट्टा तथा 2 कारतूस,  बड़कू  सोनकर  से एक देशी पिस्टल एवं एक जिंदा कारतूस मिले जिसे जप्त करते हुये तीनों आरोपियों को थाना लाया गया, एवं तीनों आरोपियो के विरूद्ध थाना गोराबाजार मे धारा 25,27 आम्र्स एक्ट के तहत कार्यवाही की गयी।
पकडे गये तीनों आरोपी अपराधी प्रवृत्ति के हैं, प्रेम उर्फ अनमोल मलिक शातिर अपराधी प्रवृत्ति का जिसकी आपराधिक गतिविधियों को दृष्टिगत रखते हुये जिला दंडाधिकारी  जबलपुर द्वारा दिनाँक 05.11.18 को जबलपुर एंव जबलपुर की सीमावर्ती  जिलों से 01 वर्ष के लिये जिला बदर किया गया था,। प्रेम मलिक द्वारा जिला बदर के आदेश का उल्लंघन करना पाया जाने पर पृथक से धारा 188 भादवि 14 म.प्र. रा.सु.अ. के तहत कार्यवाही की गयी। बडकू सोनकर एनडीपीएस एक्ट के प्रकरण मे 9 साल की सजा काटकर हाल ही में छूटा है। प्रारम्भिक पूछताछ पर तीनों ने जिला नरसिंहपुर से हथियार लाना स्वीकार किया है जिसकी तस्दीक की जा रही है।
आरोपियों की गिरफ्तारी व पूछताछ पर फायर आम्र्स जप्त करने में थाना प्रभारी गोराबाजार गिरीश धुर्वे क्राईम ब्रांच के प्रधान आरक्षक मृदुलेश शर्मा आरक्षक राजेश पांडेय , प्रेम लाल विश्वकर्मा, अखिलेश यादव, अनूप सिंह , रविसागर पांडेय थाना गोलबाजार के उनि मुनीम सिंह कुलस्ते, प्रधान आरक्षक संतोष यादव महेन्द्र मिश्रा, आरक्षक खेमराज तेकाम,  देवेन्द्र रनगिरे  का विशेष योगदान रहा । पुलिस अधीक्षक जबलपुर  अमित सिंह (भा.पु.से.) ने टीम को नगद पुरुस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।