जबलपुर। केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय द्वारा स्वीकृत शहर के चारों ओर बनने वाली मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी ११२ किमी की रिंग रोड को अब भारतमाला परियोजना में शामिल कर लिया गया है। इसकी जानकारी केन्द्रीय भूतल परिवहन एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गड़करी ने पत्र के माध्यम से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सांसद सिंह को दी है। 
    गौरतलब है कि केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने जबलपुर में अल्प प्रवास के दौरान सांसद सिह के निवास पर शहर के प्रबुद्धजनों के साथ चर्चा की थी और उस समय सांसद राकेश सिंह के द्वारा जबलपुर में बहुप्रतीक्षित फ्लाईओवर, रिंग रोड आदि की मांग की थी, जिसके फलस्वरूप गड़करी द्वारा तत्काल सभी मांगों की सैद्धांतिक स्वीकृति भी प्रदान की गई थी। उनमें से दमोहनाका से मदनमहल (मेडिकल) तक की ४.५ किमी का फ्लाईओवर की मांगों को स्वीकृत करते हुए सभी आवश्यक औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं और आगामी २२ फरवरी को केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गड़करी के द्वारा फ्लाइओवर का ७०० करोड़ रूपये की लागत से भूमि पूजन होना है। 
    सांसद सिंह के प्रयासों के फलस्वरूप प्रदेश की सबसे बड़ी ११२ किमी रिंग रोड की सैद्धांतिक स्वीकृति तो पूर्व में हो चुकी थी किंतु बड़ी परियोजना होने के कारण सांसद सिंह द्वारा केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री गड़करी को इस परियोजना को भारतमाला परियोजना में शामिल करने का आग्रह किया गया था। जिसके फलस्वरूप भूतल परिवहन मंत्री गड़करी के द्वारा पिछले दिनों सांसद सिंह को पत्र के माध्यम से सूचित किया गया कि आपके सुझाव पर मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी प्रस्तावित रिंग रोड को भारतमाला परियोजना में शामिल कर लिया गया है। 
    सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री गड़करी के द्वारा इस परियोजना को भारतमाला कार्यक्रम में शामिल करने के साथ ही शीघ्र ही इसकी विधिवत स्वीकृति भी प्रदान कर दी जायेगी और यह रिंग रोड प्रदेश की सबसे बड़ी रिंग रोड होगी जिससे जबलपुर शहर में आवश्यक यातायात के बोझ को कम किया जा सकेगा साथ ही जबलपुर लॉजिस्टिक हब के सपने को शीघ्र अमलीजामा पहनाने का कार्य किया जायेगा। 
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सांसद राकेश सिंह ने जबलपुर को मिली इस बड़ी सौगात के लिये मंत्री गड़करी के प्रति आभारत व्यक्त किया साथ ही जबलपुर की जनता को शुभकामनायें और बधाई दीं हैं।