विश्व कप पहले टीम इंडिया की यह आखिरी सीरीज है और उसके सिर्फ दो मैच बचे हैं, जिसमें से एक मुकाबला रविवार को खेला जाना है, जबकि दूसरा दिल्ली में 13 मार्च को खेला जाएगा। मगर रोहित शर्मा और शिखर धवन का खराब फॉर्म टीम इंडिया के लिए चिंता का सबब बना हुआ है।

अगर दोनों बल्लेबाजों के हालिया प्रदर्शन पर बात करें तो रोहित ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों में 51 रन, जबकि धवन ने केवल 22 रन बनाए हैं। वहीं, पिछले छह वन-डे में इस सलामी जोड़ी ने 39, 21,8, 4, 0,11 रन बनाए हैं। जनवरी से खेली गई पिछली 11 पारियों में टीम इंडिया की सलामी जोड़ी का औसत 31 का है। इसमें एक बार शतकीय साझेदारी है और उनका रन रेट 4.65 का रहा है। अगर आप आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले पांच साल में कभी भी टीम इंडिया की इस सलामी जोड़ी का औसत 41.56 से कम नहीं रहा और यह भी आखिरी बार यह भी 2015 में हुआ था। 
वहीं, बाएं हाथ के बल्लेबाज धवन पिछले छह महीनों से अपने खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। वह लगातार रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। उनका रिकॉर्ड सुधर नहीं रहा है। बीती छह पारियों में उनकी बल्लेबाजी का औसत 11.5 का है। पिछले 5 मैचों पर नजर डाले तो धवन ने 13,6, 0,21,1 रन बनाए हैं।

वन-डे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगा चुके रोहित का बल्ला भी पिछले कुछ मैचों में खामोश रहा है। हालिया फॉर्म टीम के लिए एक और परेशानी का सबब है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस सीरीज में उनका स्ट्राइक रेट 59.3 का रहा है। इस साल उनका बल्लेबाजी औसत भी सिर्फ 36.81 का है। 2013-2018 के बीच हर साल उनका औसत 50 से ज्यादा रहा है।

अगर दोनों बल्लेबाजों के हालिया प्रदर्शन पर बात करें तो रोहित ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों में 51 रन, जबकि धवन ने केवल 22 रन बनाए हैं। वहीं, पिछले छह वन-डे में इस सलामी जोड़ी ने 39, 21,8, 4, 0,11 रन बनाए हैं। जनवरी से खेली गई पिछली 11 पारियों में टीम इंडिया की सलामी जोड़ी का औसत 31 का है। इसमें एक बार शतकीय साझेदारी है और उनका रन रेट 4.65 का रहा है। अगर आप आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले पांच साल में कभी भी टीम इंडिया की इस सलामी जोड़ी का औसत 41.56 से कम नहीं रहा और यह भी आखिरी बार यह भी 2015 में हुआ था।
हैदराबाद में ऑस्ट्रेलिया के 237 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को पहला विकेट सिर्फ 4 के स्कोर पर गिरा। धवन अपनी पहली ही गेंद पर ऑफ स्टंप के बाहर बड़ा ड्राइव खेलने के चक्कर में कैच आउट हो गए। वहीं, नागपुर में रोहित बिना खाता खोले आउट हो गए तो धवन ने केवल 21 रन बनाए। रांची में खेले गए तीसरे वन-डे में रोहित ने 14 और धवन ने 1 रन बनाए।