प्रदेश के ग्वालियर जिले मे माडल टाउन स्थित बंद मकान में मंगलवार देर शाम एक युवती मिलने के कुछ घंटों बाद वहां पर एक और युवती के बंधक मिलने के मामले मे पुलिस आगे की छानबीन कर रही है। मकान में दो बंधक युवतियों के मिलने की घटना से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया है। बताया गया है की आसाम और बिहार से लाई गई दोनों युवतियों की हालत बेहद खराब थी। अधिकारियो का कहना है की जल्द ही दोनो के बयान होंगे। उधर, आरोपी महिला फरार है। पुलिस ने फरार महिला के खिलाफ युवतियों को घर में बंधक बनाने की धारा के तहत केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार माडल टाउन की गली नंबर-3 स्थित एक घर में से पड़ोसियों को मंगलवार की देर शाम को एक महिला के चीखने-चिल्लाने की आवाज आ रही थी। मामले को संदिग्ध मानकर लोगों ने पुलिस को सूचना दी जिसके बाद पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे। ओर ताला तोड़कर युवती को बाहर निकाला। रात करीब 10 बजे पुलिस उक्त युवती को थाने ले गई। इसके बाद महिला पुलिस ने युवती से पूछताछ की। बताया जा रहा हैं कि यह मकान ऊषा नाम की महिला ने किराये पर ले रखा है। जोकि यहां मैरिज ब्यूरो चलाती है। इस महिला पर युवतियों को बंधक बनाने का आरोप है। फिलहाल वह फरार है। पुलिस टीम आरोपी महिला की तलाश के लिए उक्त मकान में फिर से पहुंची। वहां पुलिस को कमरे में एक और युवती मिली। पुलिस उसे भी थाने ले आई। बंद मकान में मिली युवती असम निवासी है। जबकि दूसरी युवती बिहार की है। इन्हें यहां कब और किन हालातों में लाया गया, इस बारे में कुछ साफ नहीं हो पाया है। पुलिस का कहना है की दोनों यूवतिया हिंदी नहीं बोल पा रही जिसके चलते पुलिस इन दोनों की भाषा नहीं समझ पा रही। अधिकारियो का कहना है की दोनों जिस हालत में मिली, उससे लगता है कि ये काफी समय से भूखी-प्यासी रही होंगी। दोनों युवतियों का मेडिकल कराया गया है। मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक, एक युवती गर्भवती है। ये दोनों युवतियां शादीशुदा हैं या नहीं और इन्हें किन कारणों से यहां लाया गया इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। अफसरो का कहना है की दोनों के कोर्ट में बयान दर्ज कराए जाने के बाद इन्हें नारी निकेतन में भेजा जाएगा। इनके परिजनों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है। वही आरोपी महिला फिलहाल फरार है।