राजस्थान का पर्यटन नगरी के रूप में विख्यात लेक सिटी उदयपुर में वन विभाग की ओर से विकसित किया जा रहा 'इको टोन पार्क' एक नए टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में उभर रहा है. करीब 30 एकड़ एरिया में डेवलप हो रहे इस पार्क में टूरिस्ट के मनोरंजन के लिए काफी कुछ उपलब्ध है, जहां पर्यटक वनस्पति और वनजीवों से रूबरू हो सकते हैं.

उप वन संरक्षक ओम प्रकाश शर्मा ने बताया कि उदयपुर शहर से मात्र 7 किलोमीटर की दूरी पर बड़ी झील के किनारे इस पार्क को विकसित किया गया है. खास बात यह भी है कि आने वाले मानसून ने जब बड़ी झील भर जाएगी, तब इस पार्क में बने दो व्यू प्वाइंट से यहां की नैसर्गिक सुंदरता को निहारने का आनंद शहरवासी और विदेशी सैलानी ले पाएंगे. इन दो व्यूप्वाइंट के अलावा इस पार्क में बच्चों के लिए मनोरंजन की कई चीजें भी उपलब्ध है, और साथ ही बड़ी झील के किनारे होने से यह सैलानियों के लिए एक नई सौगात के रूप में विकसित हो रहा है.

वहीं पार्क में दो हजार किस्म के औषधि पौधों के साथ बोगेनविलिया की पांच सौ बेले लगाई गई हैं. पार्क के आस-पास वन्यजीव भी दिखाई देते हैं. पार्क की दीवार के पास पानी के किनारे गार्डन का निर्माण किया गया है, जहां पर्यटक व शहरवासी पिकनिक मना सकते हैं. साथ ही पार्क में बच्चों के मनोरंजन के लिए कई चीजें उपलब्ध हैं.