राजकोट | मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राजकोट में आयोजित “मैं भी चौकीदार” कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि गर्मी, ठंड और बारिश की परवाह किए बगैर दिन-रात अपना काम करनेवाले चौकीदारों पर गर्व है| यह दुर्भाग्य की बात है कि कांग्रेस निष्ठावान और प्रामाणिक चौकीदारों को चोर कह रही है| मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के कार्यक्रम में प्रमाणिकता और ईमानदारी से अपनी जिंदगी दांव पर लगाकर दूसरों की संपत्ति की सुरक्षा करनेवाले चौकीदार बड़ी संख्या में मौजूद हैं| जिसके लिए मैं उनका हृदयपूर्वक आभार व्यक्त करता हूं|
मुख्यमंत्री ने कहा कि विडंबना है कि अतीत में देश घपलों-घोटालों की अनेक श्रृंखला बनाने वाले लोग देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चोर कह रहे हैं| 2014 में मोदी ने जब कहा था कि वह बचपन में चाय बेचकर बड़े हुए हैं| तब कांग्रेस ने कहा था कि क्या चाय वाला देश का प्रधानमंत्री बनेगा? चाय वाला देश का प्रधानमंत्री नहीं बन सकता, चाय वाला देश नहीं चला सकता, ऐसा कह कर उनका अपमान किया था| लेकिन पूरा देश चाय वाले के समर्थन में उतर आया और नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने की अहम भूमिका निभाई थी| रूपाणी ने कहा कि देश के गरीब वर्ग की सभी मुश्किलों से मोदी स्वयं रूबरू हो चुके हैं| दूसरी ओर कांग्रेस में केवल और केवल वंशवाद है| जो लोग विदेश में पढ़ाई, शादी, विदेशी प्रभाव और सीधे कोकपिट से प्रधानमंत्री बनते हैं उन्हें क्या पता गरीबी क्या है? चाय बेचने वाले कितनी मेहनत की होगी, यह उन्हें कैसे पता होगा? चौकीदार दिन-रात पसीना बहाकर मेहनत कर अपनी सेवा करता है और उसकी तकलीफों का शहजादे को कैसे अहसास होगा|