पटना. बिहार में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 5 क्षेत्रों पूर्णिया, बांका, कटिहार, भागलपुर और किशनगंज में 18 अप्रैल को चुनाव होना है। कुल 68 उम्मीदवार मैदान में हैं। इनमें 14 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मुकदमे हैं, जबकि 21 उम्मीदवार करोड़पति हैं। सबसे अमीर पूर्णिया के कांग्रेसी उम्मीदवार उदय सिंह हैं। उनकी कुल संपत्ति 341 करोड़ रुपए हैं।
वहीं, दूसरे स्थान पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट पर बांका से चुनाव लड़ रहे राजेश प्रसाद हैं। उनकी संपत्ति 17 करोड़ हैं। तीसरे स्थान पर कटिहार के निवर्तमान सांसद और कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर हैं। उनकी कुल संपत्ति 11 करोड़ है। किशनगंज से जेएमएम के उम्मीदवार शुकाल मुर्मू व निर्दलीय संजीव कुमार कुणाल बिल्कुल कंगाल है। इन्होंने अपनी संपत्ति शून्य बताई है।

देनदारी के मामले भी उदय सिंह ऊर्फ पप्पू सिंह पहले स्थान पर
दूसरे चरण में सबसे अमीर पूर्णिया से कांग्रेस के उम्मीदवार उदय सिंह हैं, लेकिन उनपर देनदारी भी 71 करोड़ रुपए की है। वहीं झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट पर बांका से चुनाव लड़ रहे राजेश प्रसाद पर 73 लाख की देनदारी है। जबकि कि देनदारी के मामले में तीसरे स्थान कटिहार से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे समीर कुमार झा है। उनकी कुल संपत्ति तो कांग्रेसी उम्मीदवार तारिक अनवर से कम है, लेकिन देनदारी उनसे अधिक है। झा पर 7 लाख रुपए की देनदारी है।

45 उम्मीदवारों की उम्र 25 से 50 वर्ष
जहां तक उम्मीदवारों की शिक्षा की बात है, तो आधे से अधिक उम्मीदवारों की शिक्षा 5 वीं से 12 वीं के बीच है। 45 उम्मीदवारों की उम्र 25 से 50 वर्ष के बीच है। यह सब एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्स (एडीआर) और बिहार इलेक्शन वॉच द्वारा उम्मीदवारों के हलफनामे के विश्लेषण में सामने आया है।

प्रत्याशियों का अपराधनामा

पार्टी    कुल प्रत्याशी    जिनपर गंभीर केस
कांग्रेस    3    01
जदयू    5    03
राजद    2    01
बसपा    5    01
निर्दलीय    33    04
उम्मीदवारों का दौलतनामा

पार्टी    कुल प्रत्याशी    जिनपर गंभीर केस
कांग्रेस        3    03
जदयू        5    04
राजद        2    02
बसपा    5    02
निर्दलीय     33    06