किरचैम्बोलैंडेन । कहते है जीवन में कुछ नया करने वालों के लिए उम्र कोई बाधा नहीं होती। ऐसा ही कुछ जर्मनी की एक 100 वर्षी खेल शिक्षिका ने किया। जर्मनी की सौ साल की यह महिला चुनाव लड़ने वाली है। रिटायर्ड स्पोर्ट्स टीचर लिसल हेज (100) अपने जीवन की दूसरी पारी की शुरूआत करने वाली हैं। वे किरचैम्बोलैंडेन शहर से काउंसिल का चुनाव लड़ रही हैं ताकि वहां के युवाओं को वो सारी सुविधाएं दिलवा सकें, जिसके लिए वे संघर्ष कर रहे हैं। बता दें कि किरचैम्बोलैंडेन में 26 मई को मतदान होगा। लिसल को विश्वास है कि चुनाव जीतने के बाद यहां शहर के बाहर 2011 से बंद पड़े स्वीमिंग पूल को भी दोबारा शुरू करवा देंगी। वे चाहती हैं कि यहां के युवा खेल-कूद समेत हर क्षेत्र में आगे रहें। इसी बात को लेकर उन्होंने खुद चुनाव लड़ने का फैसला किया। लिसल का कहना है कि सार्वजनिक जीवन में स्पोर्ट्स टीचर बनकर मैंने युवा पीढ़ी को मजबूत बनाया, लेकिन अब वक्त आ गया है, जब मैं अपने देश को मजबूत करूं। लिसल रोज सुबह होते ही युवाओं को साथ लेकर चुनाव अभियान में जुट जाती हैं। लिसल के चुनाव अभियान में लोग उनसे कई तरह के सवाल पूछते हैं। जिनमें प्रमुख सवाल उनकी उम्र और सेहत को लेकर होता है। लोग उनसे लंबी उम्र और सेहत का राज जानना चाहते हैं। इस सवाल पर उनका एक ही जवाब होता है। वो कहती हैं, खूब खेलो, अच्छा खाओ और दिमाग को हमेशा क्रियाशील रखो।