शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी ने  भाजपा के साथ इसलिए गठबंधन किया क्योंकि वह एक ऐसा प्रधानमंत्री चाहते थे जो पाकिस्तान पर हमला कर सके। साथ ही उन्होंने शरद पवार को दिल से काला बताया।


 
ठाकरे ने औरंगाबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, "शिवसेना एक ऐसा प्रधानमंत्री चाहती थी जो पाकिस्तान पर हमला कर सके और इसलिए हम भाजपा के साथ गठबंधन में गए।"

धारा 370 पर कांग्रेस को घेरा 

धारा 370 पर कांग्रेस की निंदा करते हुए उन्होंने कहा, "कश्मीर में सभी कानून शेष भारत के बराबर होने चाहिए। कांग्रेस धारा 370 को खत्म नहीं करना चाहती है, जबकि फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती जैसे नेताओं ने कहा है कि यदि धारा 370 को समाप्त कर दिया गया तो तिरंगे का सम्मान करने वाला कोई नहीं होगा।”

कन्हैया कुमार को बताया अलगाववादी

उद्धव ठाकरे जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर निशाना साधते हुए कहा, "कन्हैया कुमार जैसे लोग लोकसभा में प्रवेश करने की तैयारी कर रहे हैं, यह बहुत दुखद है। वह अलगाववादी है।"

'शरद पवार दिल के काले'

शरद पवार के कांग्रेस संग गठबंधन पर उद्धव ने कहा,"शरद पवार ने राजीव गांधी को गाली देते हुए कांग्रेस छोड़ दी थी और शपथ ली थी कि वह कभी भी कांग्रेस में शामिल नहीं होंगे। वह दिल से काले हैं। पवार बाद में कांग्रेस संग जुड़ गए। ऐसा कोई कैसे कह सकता है कि शिवसेना और भाजपा का गठबंधन उचित नहीं है?"