मुंबई । आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स ने अजिंक्य रहाणे की जगह स्टीव स्मिथ को जैसे ही कप्तान बनाया विवाद शुरु हो गये पर यह पहला मामला नहीं है जब बीच आईपीएल में कप्तान बदला गया हो। इससे पहले भी कई बार ऐसा हुआ है हालांकि तब सवाल नहीं उठे थे। इस बार सवाल इसलिए उठा है क्योंकि स्मिथ गेंद से छेड़खानी मामले में विवादों में रहे हैं। इसी कारण वह पिछला आईपीएल भी नहीं खेल पाये थे। 
इससे पहले साल 2008 में वीवीएस लक्ष्मण के चोटिल होने के कारण उनकी जगह की जगह एडम गिलक्रिस्ट को डेकन चार्जर्स का कप्तान बनाया गया था।
वहीं 2009 आईपीएल में पीटरसन की जगह अनिल कुंबले को कप्तान बनाया गया। तब रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने पीटरसन को भारी भरकम रकम देकर खरीदा था पर वह छह मैचों में केवल 93 रन बना सके। वहीं टीम लगातार हार रही थी। ऐसे में उन्हें बीच में ही बदलकर कुंबले को कमान सौंपी गयी। 
साल 2012 में डेकन चार्जर्स के कप्तान कुमार संगाकारा ने 12 मैचों में केवल 200 रन बनाए। अच्छा प्रदर्शन न कर पाने की वजह से उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के कैमरन वाइट को कप्तानी दे दी।
साल 2012 में डेनियल विटोरी की जगह विराट कोहली को कप्तान बनाया गया था क्योंकि आरसीबी के कप्तान रहे डेनियल विटोरी नौ मैच में केवल पांच विकेट ले पाए थे। इसके बाद उनकी जगह श्री लंका के मुरलीधरन को शामिल किया गया और कप्तानी विराट कोहली को सौंप गयी ।
2013 सत्र में मुंबई इंडियंस ने रिकी पोंटिंग को कप्तान बनाया लेकिन वह छह मैच में केवल 52 रन बना सके। पोंटिंग ने कप्तानी रोहित शर्मा को सौंप दी और वह एकादश से बाहर हो गए। इस सत्र में मुंबई ने पहला आईपीएल खिताब जीता।
साल 2014 में शिखर धवन 10 मैच में 215 रन बना पाए तो सनराइज हैदराबाद ने वेस्ट इंडीज के ऑलराउंडर डैरेन सैमी को उनकी जगह कप्तान बना दिया।
साल 2015 के पहले ही मैच में शेन वॉटसन चोटिल हो गए और इसके बाद स्टीव स्मिथ ने राजस्थान रॉयल्स टीम की कमान संभाली। 
साल 2016 में छह में से पांच मैच हारने के बाद किंग्स इलेवन पंजाब ने डेविड मिलर की जगह मुरली विजय को कप्तानी सौंप दी। 
सन 2018 में गौतम गंभीर की कप्तानी में 2012 और 2014 में कोलकाता ने आईपीएल खिताब जीता। 2018 में गंभीर दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान थे लेकिन टीम छह में से पांच मैच हार गई। गंभीर ने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। इसके बाद श्रेयस अय्यर को कप्तान बनाया गया।