अलीगढ़। मंगलवार को थाना क्वार्सी क्षेत्र में पुलिस ने एक फर्जी फायर इन्जरी का खुलासा करने में सफलता हासिल की है।  
एसपीसिटी अभिषेक ने पत्रकारों को बताया कि थाना क्वार्सी पर विगत 7 मई को पंजी.त धारा 307 भादवि बनाम वाईस प्रिंसिपल आदिल जलील नि0 अहमदी स्कूल का सफल अनावरण किया गया । वादी मुकदमा मुहिबउल्ला फारुखी पुत्र स्व0 लताफत उल्ला फारुखी नि0 शेरवानी चक्की के पास धौर्रा माफी थाना क्वार्सी द्वारा बताया कि उसे महेशपुर फाटक के पास गोली मार दी है । इस सूचना पर तत्काल  पुलिस अधीक्षक नगर अभिषेक, क्षेत्राधिकारी नगर तृतीय अनिल समानिया व प्रभारी निरीक्षक क्वार्सी देवेन्द्र कुमार त्यागी घटनास्थल पर तुरन्त पहुंचे थे । जहां वादी मजरुब के रुप में जमालपुर पुल के पास खडा हुआ मिला था । घटनास्थल के पास कोई खून आदि के धब्बे नहीं थे । मजरुब को तुरन्त सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया तथा विवेचना को गम्भीरता से लेते हुए उच्चाधिकारीगण द्वारा निर्देश दिये गये । 
विवेचना के दौरान घटनास्थल पर खून के धब्बे न मिलने व पैट्रोल पम्प की सी.सी.टी.वी फुटेज तथा वादी के मोबाइल की सी.डी.आर से घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही थी । चिकित्सक द्वारा भी चोटों को संदिग्ध माना था । उसके बाद मंगलवार को मुखविर खास ने सूचना दी कि आदिल जमील व अन्य व्यक्ति निर्दोष है इनको जानबूझकर फँसाने की नीयत से महिवुउल्ला फारूखी ने अपने तमन्चे से वाये हाथ में गोली मारकर खुद घटना बनाई थी इस घटना में उसके साथ अंशू वाल्मिक, मुन्ना व नसीम भी साथ में थे, जो आज घटना में प्रयुक्त मो0सा0 से महेशपुर मोड की तरफ आ रहे है । मुखविर की सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए अभियुक्त:अंशू पुत्र दिनेश वाल्मिक निवासी नगला मल्ला थाना क्वार्सी उम्र करीव 22 वर्ष 2.नसीम पुत्र मुमताज निवासी जाकिर नगर गली न0-7 थाना क्वार्सी अलीगढ उम्र करीव 35 वर्ष 3. मुन्ना पुत्र सफी मौहम्मद  निवासी गली न0-14 जीवन गढ थाना क्वार्सी उम्र करीव 28 वर्ष को एक चैक दो लाख रूपया खाता 4. महिवुउल्ला फारूखी पुत्र लताफत उल्ला फारूखी निवासी धौर्रामाफी थाना क्वार्सी अलीगढ उम्र करीव 44 वर्ष को 1 तमंचा 315 वोर मय एक खोका कारतूस 315 वोर (आला  हत्या का प्रयास)  व घटना में प्रयुक्त एक मो0 सा0 शीज शुदा मो0सा0 समय 01.45 वजे महेशपुर मोड से  गिरतार किया गया। एवं महिवुउल्ला फारूखी ने अपनी निशादेही पर घटना में प्रयुक्त खोखा फसां तमन्चा 315 बोर को महेशपुर मोड के पास वने अपार्टमेंन्ट के पास झाडी से वरामद कराया उक्त बरामदगी के आधार पर अभियुक्त महिवुउल्ला फारूखी उपरोक्त के विरुद्ध अभियोग पंजी.त किया गया है । वादी मुकदमा मुहिबउल्ला फारुखी द्वारा बनायी गयी फायर इन्जरी के सम्बन्ध में पूछताछ की गयी तो बताया कि वह अहमदी स्कूल में क्लर्क की नौकरी करता था । उसको झूठा आरोप लगाकर नौकरी से निकाल दिया गया था । वह काफी परेशान था इसलिए उसने पकडे गये अभियुक्तों के साथ मिलकर फर्जी इन्जरी बनाकर वाइस प्रिंसिपिल आदिल जलील के खिलाफ फर्जी मुकदमा लिखाया था ताकि आदिल जलील को पुलिस गिरतार कर जेल भेज दे ।