गुजरात के साबरकांठा जिले में कुछ किशोरों ने मगरमच्छ के जबड़े से अपने दोस्त को खींच निकाला। घटना सोमवार की है। संदीप कमलेश परमार (14) और उसके दोस्त साबरकांठा जिले के गुणभाखरी गांव से गुजर रही नदी में तैरने के लिए गए थे। परमार नदी में उतरा ही था कि एक मगरमच्छ ने उसके दाएं पैर को पकड़ लिया और हड्डी में भीतर तक अपने दांत गड़ा दिए।

परमार ने मदद के लिए आवाज लगाई तो उसके दोस्त वहां पहुंचे और मगरमच्छ पर लगातार पत्थर फेंकने लगे। किशोरों के पथराव से मगरमच्छ चोटिल हो गया और उसने परमार के पैर को जबड़े से मुक्त कर दिया। दोस्तों ने एंबुलेंस बुलाई और परमार को खेडब्रह्मा स्थित सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया।

अस्पताल अधीक्षक डॉ. अश्वनी गाधवी ने मंगलवार को बताया कि बच्चे के घुटने के नीचे के दाएं पैर की हड्डी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। हालांकि, उन्होंने परमार के दोस्तों की सतर्कता और साहस की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, 'प्रारंभिक चिकित्सकीय सहायता के बाद बेहतर इलाज के लिए परमार को हिम्मतनगर जिला अस्पताल भेज दिया गया है।'