पटना समेत बिहार के 32 जिले रविवार और सोमवार को लू की चपेट में रहेंगे। दो दिनों तक तीखी धूप और पछुआ शुष्क हवा से लोगों को निजात नहीं मिलेगी। जो 32 जिले अगले 48 घंटे तक लू की चपेट में रहेंगे उनमें वे आठ लोकसभा क्षेत्र पटना साहिब, पाटलिपुत्र, जहानबाद, बक्सर, आरा, काराकट, नालंदा और सासाराम भी है, जहां 19 मई यानी रविवार को सातवें और आखिरी चरण का मतदान होना है। नार्थ इस्ट यानी सीमांचल के छह जिले सुपौल, अररिया, मधेपुरा, किशनगंज, पूर्णिया, सहरसा अगले दो दिनों तक लू और गर्म हवाओं की चपेट में नहीं रहेंगे।

 
शनिवार को पटना और गया के अधिकतम तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की गई। शनिवार को पटना का अधिकतम पारा 42.2 डिग्री से. दर्ज किया गया जो शुक्रवार की अपेक्षा 0.4 डिग्री कम दर्ज किया गया। शनिवार को पटना का दर्ज अधिकतम पारा सामान्य से 5 डिग्री अधिक रिकॉर्ड किया गया। गया सर्वाधिक गर्म रहा। यहां का अधिकतम पारा 42.4 डिग्री से. रिकॉर्ड किया गया जो नॉर्मल से 0.2 डिग्री से. कम रहा। शनिवार को गया का अधिकतम पारा सामान्य से 3 डिग्री से. अधिक दर्ज किया गया।

पटना और गया में भले ही अधिकतम पारा में मामूली गिरावट दर्ज की गई पर लोग तीखी धूप व गर्म हवाओं की वजह से परेशान रहे। बात दीगर है दोनों जिला शनिवार को लू की चपेट में नहीं था। पूर्वानुमान में कहा गया है कि मंगलवार से कुछ राहत मिलने के आसार है। कहीं-कहीं गरज के साथ तेजी आधी और हल्की बारिश होने की संभावना है।