न्यूयार्क । अनुसंधानकर्ताओं ने स्मार्टफोन आधारित एक एप विकसित किया है जो माइग्रेन से पीड़ित लोगों के सिरदर्द को घटाने में मदद कर सकता है। इस एप के इस्तेमाल के दौरान माइग्रेन से पीड़ित जिन लोगों ने एक सप्ताह में कम से कम दो बार इस तकनीक का इस्तेमाल किया उन्हें हर महीने औसतन कम से कम चार दिन सिरदर्द से आराम मिला। रिलैक्स ए हेड नाम का एप मरीजों को मांसपेशियों में निरंतर आराम (पीएमआर) का तरीका बताता है। व्यवहार संबंधी थैरेपी के रूप में, मरीजों की अलग अलग मांसपेशियों में आराम मिलता है जिससे तनाव कम होता है। पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन ऐसा पहला अध्ययन है जिसमें माइग्रेन के इलाज के लिए एक एप के स्वास्थ्य संबंधी असर का मूल्यांकन किया गया है। एनयूवाई में सहायक प्रोफेसर मिआ मिनेन ने कहा,हमारा अध्ययन साबित करता है कि अगर मरीजों के पास व्यवहार संबंधी थैरेपी आसानी से उपलब्ध हो तो वे इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, वे अपने हिसाब से इसका इस्तेमाल कर सकते हैं और यह सस्ता है। माइग्रेन का मुख्य लक्षण बेहद तेज सिरदर्द है और बाद में इसमें उबकाई तथा प्रकाश एवं ध्वनि के प्रति संवेदनशीलता भी जुड़ जाती है।