मथुरा के जिला अस्पताल में शर्मनाक तस्वीर सामने आई है। सर्जिकल वार्ड में भर्ती घायल व्यक्ति पलंग से नीचे गिर गया। वो काफी देर तक जमीन पड़ा रहा, लेकिन अस्पताल स्टाफ से कोई उसे उठाने नहीं आया। उसके जख्मों पर चीटियां नोंचने लगी। बताया जाता है कि बिहार के आरा निवासी हरिनाथ तीन अगस्त को ट्रेन से गिरकर घायल हो गए थे। उन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। सोमवार को दोपहर के वक्त घायल हरिनाथ अपने पलंग से नीचे जमीन पर गिर गए। 

हरिनाथ बेहोशी की हालत में घंटों तक जमीन पर पड़े रहे। जमीन पर गिरने के कारण उनके घावों से खून भी बहने लगा था, लेकिन अस्पताल स्टाफ ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया। इस दौरान घायल हरिनाथ के जख्मों पर चीटियां भी नोंचने लगी।

तीमारदारों ने बेड पर लिटाया

जब वार्ड में भर्ती अन्य मरीजों के तीमारदारों ने हरिनाथ को जमीन पर पड़े देखा तो उन्होंने उन्हें पलंग पर लिटाया। अस्पताल स्टाफ की संवेदनहीनता पर तीमारदारों में रोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वार्ड में मरीज को देखने कोई नहीं आता है। 

इस संबंध में जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ आरएस मौर्या ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। अगर ऐसा हुआ है तो यह गलत है। वो जांच कराने के बाद लापरवाही बरतने वाले वार्ड ब्वॉय और नर्स के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।