उदयपुर  । चित्तौडग़ढ़ के निंबाहेड़ा में बीती रात एक बेटे ने अपने पिता की कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी। बीच-बचाव करने आई मां को भी नहीं बख्शा और उस पर भी जानलेवा वर कर दिया। माता-पिता पर हमले के बाद उसने पास ही पुलिया से कूद कर जान देने की कोशिश की। वारदात के समय पिता-पुत्र दोनों नशे में थे। इसका पता सुबह चला जब बेटी-दामाद घर आए।  प्राप्त जानकारी के अनुसार मांगरोल चौराहा नई आबादी में फूलचंद नायक 60 अपनी पत्नी और बेटे मुकेश 25 के साथ रहता है। रात में फूलचंद और मुकेश ने शराब पी थी। दोनों शराब के नशे में धुत थे। दोनों में किसी बात को लेकर बहस हो गई। इस पर मुकेश तैश में आ गया और उसने कुल्हाड़ी से पिता पर वार कर दिया। मुकेश की मां अपने पति फूलचंद को बचाने आई तो मुकेश ने उस पर भी वार कर दिया। फूलचंद ने दम तोड़ दिया। दोनों पर हमले के बाद मुकेश वहां से चला गया और पास में ही एक पुलिया से कूद कर जान देने की कोशिश की। पुलिया से गिरकर वह घायल हो गया और वहीं पड़ा रहा। हो हल्ला सुनकर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आकर एफएसएल की टीम को भी मौके पर बुलाया। एफएसएल ने मौके से साक्ष्य जुटाए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस के अनुसार पिता-पुत्र में अक्सर झगड़ा होता था। फूलचंद मजदूरी करता था और मुकेश कुछ कमाता नहीं था। दोनों में इसी बात को लेकर झगड़ा होता था। बीती रात को भी उनमें इसको लेकर बात हुई जो झगड़े में बदल गई। मुकेश की चार बहने भी हैं जिनकी शादी हो चुकी है। एक बेटी घर के पास ही रहती है। वह अपने पति के साथ पीहर आई थी। घर का नजारा देखकर उसके होश उड़ गए। उसकी लहूलुहान उसकी मां अपने पति के शव के पास बिलख रही थी। इस पर उन्होंने पुलिस को पुलिस को सूचना दी।