कुछ समय पहले की ही बात है.. जब इंच इंच मेजा डेम की खबर जानने भीलवाड़ा वासी बैचन रहते थे.. 
प्यास परेशान करती है... और तृप्ति के बाद अकसर सो जाने का मन करता है ।।