बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव सुपौल जिले के बलुआ में होगा. सोमवार की सुबह दिल्ली में उनका निधन हो गया. वो लंबे समय से बीमार चल रहे थे. 82 साल के मिश्रा का पार्थिव शरीर मंगलवार की दोपहर दिल्ली से पटना लाया जाएगा और लोगों के अंतिम दर्शन के लिए शव को रखा जाएगा.

CM ने जताया शोक

मिश्रा के निधन पर शोक संवेदनाओं का तांता लगा हुआ है. सीएम नीतीश कुमार ने भी जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर दुख जताया है. सीएम नीतीश कुमार ने अपने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि जगन्नाथ मिश्रा एक प्रख्यात राजनेता एवं शिक्षाविद थे. बिहार के साथ-साथ देश की राजनीति उनका बहुमूल्य योगदान रहा है. उनके निधन से न केवल बिहार बल्कि पूरे देश के राजनीतिक सामाजिक और शिक्षा के क्षेत्र में अपूर्ण क्षति हुई है. सीएम ने कहा कि भगवान दुख की इस घड़ी में उनके परिजनों को शक्ति प्रदान करे.

बेटे से की फोन पर बात


नीतीश कुमार ने उनके बेटे मनीष मिश्रा से फोन पर बात की और ढाढस बंधाया. जानकारी के मुताबिक मंगलवार को मिश्रा का पार्थिव शरीर दिल्ली से पटना ले जाया जाएगा. पूर्व सीएम के निधन पर राज्य में 3 दिन की राजकीय शोक की घोषणा की गई है. पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा.

दिल्ली रवाना हुए डिप्टी सीएम

पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने शोक जताया है. उनके निधन की खबर मिलते ही सुशील कुमार मोदी सुबह में ही दिल्ली रवाना हो गए. सुशील मोदी जगन्नाथ मिश्रा के दिल्ली स्थित आवास जाकर उनको श्रद्धांजलि देंगे.  केंद्रीय गृह राज्यमंत्री एवं बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय ने डॉo जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में उनके परिजनों के साथ खड़ा हूँ.
Ad
 
तेजस्वी ने भी दी श्रद्धांजलि

पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर बिहार के सूचना और जन संपर्क मंत्री नीरज कुमार, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने भी शोक जताया है. बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट कर जगन्नाथ मिश्रा को श्रद्धांजलि दी.