जयपुर. प्रदेश के किसान आंदोलन के मूड में हैं. किसानों (farmers) ने अपनी मांगों को लेकर दूदू से जयपुर के लिए कूच किया है. किसान महापंचायत के आह्वान पर किसानों ने बुधवार को दूदू से पैदल मार्च की शुरुआत की है. किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट के नेतृत्व में किसान जयपुर आ रहे हैं. तय कार्यक्रम के अनुसार किसान महापंचायत के नेतृत्व में किसान अपनी मांगों को लेकर जयपुर में सरकार को ज्ञापन सौंपेंगे. भारतीय किसान यूनियन ने भी किसान महापंचायत के किसान कूच को अपना समर्थन दिया है. किसानों को जयपुर (Jaipur) में प्रवेश करने से पहले कहीं भी पुलिस (Police) रोक सकती है. किसान महापंचायत ने तय किया है कि जहां भी किसानों को रोका जाएगा, किसान वहीं पर बैठकर धरने की शुरुआत कर देंगे. किसान कृषि उपजों की नीलामी बोली न्यूनतम समर्थन मूल्य से शुरू करने की मांग कर रहे हैं.साथ ही भावान्तर योजना के तहत भुगतान करने की भी मांग है. इसके अलावा ग्राम सेवा सहकारी समिति स्तर पर पूरे साल फसल खरीद करने और प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान की बीमा राशि दिलाने की मांग भी की जा रही है. इसके अलावा किसानों की मांग है कि किसानों की उपज की खरीद की गारंटी के लिए कानून बनाया जाए.