यह सच है कि बहुत सारे कामों को एक ही दिन में पूरा कर पाना यदि असंभव नहीं, तो मुश्किल भरा जरूर हो सकता है, परंतु यदि आप ठान लेंगी, तो कुछ भी दिक्कतभरा महसूस नहीं होगा। जब आप ऑफिस में हैं तो कोई भी बॉस यह नहीं देखेगा कि आप पर काम का कितना भार है, उन्हें तो मात्र रिजल्ट चाहिए होता है। यदि आप पर भी काम का बोझ है, तो चुप रहने की अपेक्षा अपने बॉस को इस बारे में अवश्य बताएं, क्योंकि कोई भी आदमी काम का ज्यादा बोझ नहीं उठा सकता है, अत: उनसे कोई सहायक मांगने से मत चूकें। अपने दिनभर के कामों को इन टिप्स की मदद से भी हल्का और व्यवस्थित कर सकती हैं।

1. सबसे पहले तो अपने सभी कामों पर नजर डालें। यदि काम साकारात्मकता के साथ शुरू करेंगी, तो लंबा सफर तय कर पाएंगी। खुद को इस बात के लिए मोटिवेट करती रहें कि आप उस काम या जिम्मेवारी को बखूबी कर सकती हैं, यकीन मानें कि इससे आप खुद को बेहद हलका महसूस करेंगी।

2. अपने कामों की एक लिस्ट बनाएं और जैसे-जैसे आपके काम पूरे होते जाएं, उन पर टिक करती जाएं। इससे आप महसूस करेंगी कि वास्तव में काम का बोझ कम होने लगा है। लिस्ट बनाने में शर्माने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ज्यादातर सफलता का आगाज लिस्ट से ही होता है।

3. सब्र रखना और आपा न खोना बेहद जरूरी है। गुस्सा करने से परेशानी ही बढ़ती है। ज्यादा उत्साह से सिर्फ काम की गति धीमी होती है, केवल शांत रह कर सोचने से ही काम बनता है। जब आप खुद शांत रहती हैं तो आस-पास के लोग भी ठीक तरह से काम कर पाते हैं।

4. कभी मत सोचें कि आप सुपर वूमैन हैं, क्योंकि आप एक वक्त पर एक ही काम कर सकती हैं, सो अपना पूरा ध्यान एक ही काम को पूरा करने में लगाएं। यदि आप दस काम एक साथ करने की कोशिश करेंगी, तो उसमें चीजें गड़बड़ाने में समय नहीं लगेगा।

5. मदद मांगना गलत नहीं है, सो अपने कलीग्स से मदद मांगने में शर्माने कैसा, जब आप उनकी मदद कर सकती हैं, तो वे भी हमेशा आपकी मदद को तैयार रहेंगे। जब दो-तीन लोग जब मिल कर किसी काम को करने का बीड़ा उठाते हैं, तो काम जल्दी हो जाता है।

6. जब आपके बॉस देखते हैं कि जबरदस्त दबाव में भी आप कमाल का काम कर दिखाती हैं, तो वे काम और बढ़ा देते हैं, अत: अपनी क्षमताएं पहचानें और जरा भी अति महसूस हो, तो तुरंत मना कर दें। यह जरूरी भी है कि वे इस बात को जान जाएं कि वास्तव में आपके पास काम ज्यादा है।