तीर्थ नगरी पुष्कर में अंतरराष्ट्रीय पुष्कर मेला 2016 मंगलवार से शुरू हो चुका है. मेले में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी मुख्य आकर्षण का केंद्र हॉट एयर बैलून लोगों को काफी आकर्षित कर रहे हैं.

विदेशी पर्यटक बलून की सवारी कर पुष्कर मेले आदर्शों को अपने-अपने कैमरे में कैद करते नजर आ रहे हैं. हर किसी के लिए यह बैलून चर्चा का विषय बना हुआ है. जिला प्रशासन द्वारा इस बार बलून शो के जरिए एक फोटोग्राफी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया है, जिसमें प्रथम आने वाले को 5000 डॉलर का इनाम दिया जाएगा.

इसके अलावा मेले में धीरे-धीरे लोगों की भीड़ बढ़ने लगी है और रौनक अब बनने लग गई है. मेले में बढ़ी संख्या में पशुपालकों की पहुंचने का सिलसिला शुरू हो चुका है. अब तक मेले में लगभग 5500 पशु पहुंच चुके हैं. मेले में अब तक 21 सौ से अधिक घोड़े पहुंचे हैं जो राजस्थान के अलावा पंजाब हरियाणा व गुजरात से आए हैं. ऊंटों की संख्या भी 27 सौ से अधिक पहुंच चुकी है.

पशुपालको के लिए पशुपालन विभाग ने भी तमाम दांवे किए हैं. अतिरिक्त निदेशक पशुपालन विभाग अजमेर जीएल मीणा ने बताया कि पशुओं के लिए लाइट, पानी, अनुदानित चारे सहित निशुल्क दवा और चिकित्सा की व्यवस्था की गई है. वहीं दूसरी तरफ पशुपालक व्यवस्थाओं को लेकर नाखुश हैं और उन्हें इस बार अपने पशुओं के अच्छे भाव भी नहीं मिल रहे हैं.

पुष्कर मेले को लेकर अजमेर पुलिस ने भी विशेष व्यवस्थाएं की है. पुष्कर मेले में 1500 पुलिस के जवान और आरएसी का जाब्ता तैनात रहेगा. इसके अलावा सादी वर्दी में भी पुलिस के जवान प्रत्येक संदिग्ध पर नजर रखे रहेंगे. ट्रैफिक का भी विशेष बंदोबस्त किया गया है. 14 नवम्बर को विशेष स्नान के अवसर पर यातायात पूर्णतया प्रतिबंधित रहेगा. वहीं अन्य दिनों के लिए विशेष पासधारी वाहन की मेला मैदान में जा सकेंगे.