वाराणसी में जंसा के कुरौना में बुधवार रात 55 वर्षीय फूलकुमारी की गला रेतकर हत्या बहू पूजा और उसके प्रेमी अर्जुन ने की थी। पुलिस ने बहू पूजा को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं प्रेमी फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

पुलिस के अनुसार कुरौना के कृष्णानंद मिश्रा का एकलौता बेटा रवीन्द्र कुमार मिश्रा उर्फ बब्बल की पत्नी पूजा का जैतपुरा के ढेलवरिया के अर्जुन सोनकर के साथ अवैध संबंध था। इसकी जानकारी रवीन्द्र की मां फूलकुमारी को हो गई।

बुधवार को पूजा से मिलने अर्जुन गया था। फूलकुमारी ने दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया और विरोध किया। इसके बाद दोनों ने उसकी पहसुल से गला रेतकर हत्या कर दी। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त पहसुल बरामद कर लिया है। घटना के वक्त कृष्णानंद और रवीन्द्र अपने काम पर गए थे।

पुलिस के अनुसार फूलकुमारी की हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए उसे सीढ़ियों से छत पर ले जा रहे थे। सीढ़ी पर शव छोड़कर दोनों ने कमरे की सफाई शुरू कर दी। इसके बाद अर्जुन वहां से भाग गया।

भाई बनकर आता था कुरौना
एसओ जंसा उमाशंकर पाण्डेय ने बताया कि पूजा का भाई बनकर अर्जुन आता था। दो साल पहले दोनों पाण्डेयपुर में किराये के मकान में पति-पत्नी के रूप में रहते थे। 6 अक्तूबर को पूजा ने रवींद्र से मंदिर में की। उसे भी पूजा ने अर्जुन को अपना भाई बताया। शादी में भी वह भाई की तरह शामिल हुआ था। पूजा अक्सर घरवालों पर पाण्डेयपुर में मकान बनवाकर रहने का दबाव भी डालती थी। पूजा को दो माह का एक बेटा भी है।