सदन में हर मुद्दे पर हंगामा करने वाले नेता सिर्फ एक ही मुद्दे पर महात्मा बुद्ध की तरह शांत और गहरी मुस्कान के साथ एकजुट हो जाते है...
और वो मुद्दा है..
इनका "वेतनवृद्धि विधेयक बिल".

....अपना हक पाने के लिए जनता पता नही कब एकजुट होगी..