राजस्थान की कोचिंग सिटी कोटा में जेईई मेंस के रिजल्ट आने के बाद तनाव में आए एक छात्र ने शुक्रवार को आत्महत्या कर ली. यह छात्र अरिजीत पश्चिम बंगला का रहने वाला था और जेईई मेंस में सलेक्ट नहीं हो पाया था. उधर, हरियाणा का एक अन्य कोचिंग छात्र रिजल्ट घोषित होने के बाद से लापता है.


बता दें कि कोटा शहर में करीब 2 लाख छात्र विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी की कोचिंग के लिए रहते हैं. देश भर से कोटा आने वाले छात्र अक्सर पढ़ाई का तनाव, घरवालों से दूर रहने और अफसल होने का भय अक्सर खुदकुशी की ओर कदम बढ़ा देते हैं. इसी वहज से कोटा को अब सुसाइट सिटी कहा जाने लगा है.


अरिजीत ने हॉस्टल में लाई फांसी
महावीर नगर पुलिस के अनुसार संभवत: जेईई मेंस रिजल्ट आने के बाद तनाव में आए पश्चिम बंगाल निवासी अरिजीत ने हॉस्टल में अपने कमरे में फांसी से झूलकर आत्महत्या कर ली. वह पिछले एक साल से कोटा में रह कर इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहा था. एएसआई रामस्वरूप ने बताया कि अरिजीत अपने तीन दोस्तों के साथ हॉस्टल में रहता था.

 

दो दिन से हरियाणा का विनीत लापता

जेईई की तैयारी के लिए हरियाणा के रेवाड़ी का विनीत चौहान पिछले एक साल से अपनी मां के साथ कोटा रह रहा था. रिजल्ट घोषित होने के बाद से ही वह लापता है. विनित की मां सुमन चौहान ने विज्ञान नगर थाने पर पहुंचकर गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई है.