आज के समय में सुख-सुविधाअों का प्राप्ति के लिए व्यक्ति कड़ी मेहनत करता है। कुछ लोगों की आय के साधन कम होते हैं तो वे अपनी जरुरतों के लिए कर्ज ले लेता हैं। कई लोग इस कर्ज को चुका नहीं पाते। जिसके कारण उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कर्ज एक ऐसा दलदल है जिसमें फंसकर व्यक्ति निकलने का बजाय धंसता ही चला जाता है। ज्योतिष शास्त्र में कुछ बातों के बारे में बताया गया है। कर्ज के लेन-देन में इन बातों का ध्यान रखा जाए तो इस बोझ से बचा जा सकता है।

ज्योतिष के अनुसार कर्ज सदैव बुधवार को लेना चाहिए अौर इसे उतारने के लिए मंगलवार का दिन सबसे अच्छा होता है। जब भी कर्ज की किस्त देनी है तो मंगलवार के दिन दें, इससे शीघ्र छुटकारा मिलेगा। 

कर्ज से मुक्ति के लिए प्रतिदिन लाल मसूर की दाल अौर मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में नारियल का दान करें। 

हरे रंग के गणपति मुख्य द्वार पर आगे-पीछे दोनों अोर लगाएं। वास्तु के अनुसार ईशान कोण अर्थात उत्तर-पूर्व दिशा को साफ व स्वस्थ रखें। 

मंगलवार अौर शनिवार के दिन हनुमान जी के चरणों में तेल-सिंदूर अर्पित करें अौर माथे पर सिंदूर का तिलक लगाएं। इसके साथ ही हनुमान चालीसा अौर बजरंग बाण का पाठ भी करें। 

शुक्ल पक्ष के बुधवार से गणेश स्त्रोत का पाठ करना शुरू करें। बुधवार के दिन सवा पाव मूंग उबालकर उसमें घी-शक्कर मिलाकर गाय को खिलाएं। ऐसा करने से कर्ज से शीघ्र मुक्ति मिलती है। 

कर्ज से मुक्ति के लिए शनिवार को ऋणमुक्तेश्वर महादेव का पूजन करें।

प्रतिदिन श्रीगणेश को दूर्वा और मोदक का भोग लगाएं।

सुबह शीघ्र उठकर स्नानादि कार्यों से निवृत्त होकर शिवलिंग पर प्रतिदिन कच्चा दूध अर्पित करें, शीघ्र लाभ होगा।