पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) के अध्यक्ष भगवंत मान ने राज्य इकाई भंग कर दी है. चंडीगढ़ में बैठक के दौरान यह फैसला लिया गया. बैठक के दौरान एचएस फुल्का, प्रोफेसर साधू सिंह, अमन अरोड़ा और सुखपाल सिंह खरा समेत आप के वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

पार्टी के एक प्रवक्ता ने बताया कि बैठक काफी लंबी चली जो सुबह शुरू होने के बाद देर शाम खत्म हुई. बैठक में सभी विधायक, पार्टी उम्मीदवार, क्षेत्र सह-समन्वयक और अन्य पदाधिकारी शामिल थे. बैठक के दौरान विधानसभा चुनाव से जुड़े कई मुद्दों पर चर्चा हुई.

पंजाब में आप आपसी कलह से जूझ रही है. पिछले दिनों गुरप्रीत घुग्गी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. वे पंजाब में पार्टी के संयोजक पद से हटाए जाने से नाराज थे. उनकी जगह संगरूर से सांसद भगवंत मान को ये पद सौंपा गया था. आप की एनआरआई विंग ने अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर भगवंत मान को संयोजक ना बनाने की मांग की थी. इसके बाद भी पार्टी ने उन्हें ये पद सौंपा है.

इसी साल हुए पंजाब विधानसभा चुनावों में आप दूसरे स्‍थान पर रही थी. हालांकि, उसे जीत का दावेदार माना जा रहा था. उसके नेताओं ने 100 से ज्‍यादा सीटें जीतने का दावा भी किया था लेकिन असल नतीजे इससे अलग आए थे.