टोक्यो: जापान ने आज कहा कि विवादित समुद्री क्षेत्र में चल रहे चीनी पोत से ड्रोन उड़ाने के बाद उसने अपने लड़ाकू विमान रवाना कर दिए थे। पूर्वी चीन सागर में छोटे द्वीपों के एक समूह पर दोनों देशों के बीच तनाव चल रहा है।

जपान सरकार के शीर्ष प्रवक्ता योशीहिदे सुगा ने नियमित ब्रीफिंग में बताया कि गुरूवार को हुए वाकये के खिलाफ जापान ने चीन पर च्च्एकतरफा रूप सेज्ज् तनाव बढ़ाने का आरोप लगाते हुए च्च्कड़ा विरोधज्ज् जाहिर किया है।  

जापान रक्षा मंत्रालय ने बताया कि उन्होंने दो एफ-१५ लड़ाकू विमान और एक अवाक्स प्रणाली सहित ४ विमान टापू के आसपास समुद्र में रवाना किए गए हैं । इलाके में अपना दावा जाहिर करने के लिए दोनों देशों के तट रक्षक पोत नियमित रूप से यहां गश्त लगाते हैं । जापान तटीय रक्षक ने बताया कि तनाव का ताजा मामला गुरूवार को हुआ जब चार चीनी जहाज जापानी समुद्री क्षेत्र में दाखिल हुए । सुगा ने कहा,च्च्हमने एेसा पहली बार देखा है जब चीनी पोत द्वारा छोड़े गए ड्रोन समुद्री क्षेत्र में दिखें हैं।ज्ज् उन्होंने कहा,च्च्यह चीन की और से की गई एक नई तरह की गतिविधि है ।ज्ज् उन्होंने कहा,च्च्हम एकतरफा तौर पर तनाव को बढ़ावा देने का विरोध करते हैं और हम इसे बिल्कुल भी स्वीकार नहीं कर सकते ।ज्ज्