राजस्थान की प्रतापपढ़ नगर पालिका की स्वच्छ भारत अभियान टीम को खुले में शौच जाती महिला का फोटो लेते देख शुक्रवार को हंगामा हो गया. शहर की कच्ची बस्ती के लोग टीम के विरोध में हाथापाई पर उतर आए. नगर पालिका टीम के सदस्यों ने भी आपा खो दिया देखते ही देखते कहासुनी खुनी संघर्ष में बदल गई.
खुले में शौच की फोटो के बहाने महिला के साथ छेड़छाड़ की बात पर टीम का विरोध कर रहे बुजुर्ग जफर खान इस मारपीट में गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.


पांच लोगों पर हत्या का केस
पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा के अनुसार शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है. जफर के भाई नूर मोहम्मद की शिकायत पर कोतवाली थाना पुलिस ने प्रतापगढ़ नगर पालिका की टीम के कमल हरिजन, रितेश हरिजन समेत पांच लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया.

हाईवे पर लगाया जाम, आश्वासन पर यातायात बहाल
जफर खान की मौत के बाद कच्ची बस्ती के लोगों ने आक्रोश में नेशनल हाईवे 113 पर जाम लगा दिया. बस्सी की महिलाएं, बच्चे और पुरुष सभी हाईवे पर जमा हो गए. कई घंटों तक उनका यह विरोध प्रदर्शन जारी रहा. आखिरकार जिले के प्रशासनिक अधिकारियों और आला पुलिस अफसरों की समझाइश और आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ और हाईवे पर यातायात बहाल किया गया.