बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ उपखण्ड अधिकारी रामेश्वरदयाल मीणा शुक्रवार सुबह बांसवाड़ा से कुशलगढ़ जा रहे थे. इस दौरान वे बिलड़ी के पास ढेबरी नदी पुल को पार कर रहे थे कि नदी का बहाव अचानक तेज हो गया, जिससे उनकी गाड़ी पानी में बह गई.

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार एसडीएम मीणा और वाहन चालक दोनों गाड़ी में से कूद गए थे. चालक करीब दो किलोमीटर की दूरी पर तैर कर बाहर निकला.
एसडीएम मीणा के नदी में बहने की घटना के बाद जिला प्रशासन ने राहत एवं बचाव कार्य तेज कर दिए हैं.

जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद, जिला पुलिस अधीक्षक कालूराम रावत, अतिरिक्त जिला कलेक्टर हिम्मत सिंह बारहठ, बागीदौरा डिप्टी, सज्जनगढ़, कुशलगढ़ और कलिंजरा थाना पुलिस भी मौके पर मौजूद हैं और रेस्क्यू ऑपरेशन निरंतर जारी है.

कलेक्टर भगवती प्रसाद व एसपी कालूराम रावत ने आस-पास ग्रामीणों से चर्चाकर घटना के बारे में पूरी जानकारी ली है. प्रशासनिक अमला मौके पर मौजुद है और राहत कार्य जारी है.

सुबह की घटना के बाद से मौके पर लोगों की भारी तादात में भीड़ एकत्रित हो गई. नदी में पानी का बहाव अधिक होने से न तो वाहन का पता चल पाया और एसडीएम मीणा का.

पानी का स्तर कम होने पर कलिंजरा के समीप वाहन मिला जो पूरी तरह मिट्टी में धंसा हुआ था, लेकिन एसडीएम रामेश्वरदयाल मीणा का समाचार लिखे जाने तक कोई पता नहीं चल सका है.

चालक अशोक ने बताया कि सुबह करीब सात बजे बांसवाड़ा से कुशलगढ़ के लिए निकले थे. पुल पर पानी कम था अचानक से पानी तेज आ गया, जिससे गाड़ी बह गई.