जोहान्सबर्ग की विट्स यूनिवर्सिटी में रविवार को भारतीय महिला हॉकी टीम वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल के पूल बी के फाइनल मुकाबले में अर्जेंटीना से हार गई है। अर्जेंटीना ने भारत को 3-0 से मात दी और वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल्स में भारतीय टीम की ये दूसरी हार है। इससे पहले अमेरिका से 1-4 के अंतर से भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था।
 
अर्जेंटीना खेल की शुरुआत से ही आक्रामक नजर आई और मैच के दूसरे मिनट में ही खिलाड़ी रोसिओ संचेज़ ने गोल कर भारत पर दवाब बना दिया। लेकिन बहुत जल्द ही मारिया ग्रेनाटो ने भारत की मोनिका को चकमा दे खेल के चौदवें मिनट में दूसरा गोल दागा और इस तरह पहले क्वार्टर में भारतीय टीम अर्जेंटीना से 2-0 से पीछे रही।

मैच में भारत पर 2-0 से बढ़त बनाने के बावजूद भी अर्जेंटीना ने अपना खेल आक्रामक बनाए रखा और भारत को किसी भी तरह का मौका नहीं दिया। वहीं, दूसरे हाफ में सुशिला के रूप में अर्जेंटीना को पेनल्टी स्ट्रोक भी मिला। अर्जेंटीना की ओर से जीत का तीसरा गोल नोएल बैरियनेएवो ने किया। 

वहीं, भारत ने गोलकीपर सविता को बैठाकर रजनी एटीमारपू मैदान में बुलाया। रजनी ने तीसरे और चौथे क्वार्टर में दो फाइन से बचाया जिससे अर्जेंटीना के बड़ें स्कोर से जीतने की उम्मीद धराशायी हो गई। इस हार से भारत चार अंको के साथ लीग में चौथे नंबर पर आ गया है और प्वांट्स टेबल में 12 अंक हासिल कर अर्जेंटीना लीग में टॉप पर है। मंगलवार को क्वार्टर फाइनल में भारत का मुकाबला इंग्लैंड से होगा।