खुरई। सावन के पवित्र माह में परम पूज्य संत ददाजी षिष्य मंडल में चरण सेवक विजय दुबे मदन दुबे के निवास पर चल रहे षिवलिं्रग निर्माण धार्मिक अनुष्ठान में भा.ज.पा. महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सरेाज सिंह ने  रुद्री निर्माण किया व विधी विधान से पूजा अर्चना में भाग लिया इस मौके पर दुबे परिवार के अलावा अन्य ऋद्धालुगण उपस्थित रहे

 पुलिया पर नहीं बनाया स्लेब वाहन चालक हो रहे चोटिल
खुरई।
जगजीवन राम वार्ड मरई माता मंदिर के पास बर्षो से क्षतिग्रस्त पुलिया का नव निर्माण लगभग 2 माह पहले तो करवा दिया गया मगर बनाई गई पुलिया पर स्लोप न बनाए जाने से आम लोगो के साथ साथ वाहन चालको को भी परेषानीयां हो रही है। दुपहिया वाहन चालक अपने वाहन निकालते समय पुलिया पर गिरकर चोटिल हो रहे है। लोगों का कहना है कि जहां कहीं भी शहर में सीसी सड़क निर्माण का कार्य कराया है उनमें से अधिकांष जगहो पर स्लोप न देने के कारण दुपहिया वाहन चालको को अच्छी खासी परेषानी हो रही है। लगता है कि निर्माण एजेंसी के साथ साथ परिषद के अधिकारी भी सुध भूल गये है। आम लोगो को हो रही परेषानीयों का दर्द आमलोग ही कर रहे है परिषद नहीं।

कीचड़ भरी राहो से निकलने को विवष
खुरई।
ग्राम पंचायत बम्होरी नबाब के अंतर्गत आने वाले गांव माईज्जा तक सड़क न होने से वहां के वाषिंदे दलदली एवं खेतो की पगडंडियों के सहारे आवागमन करते है। ग्राम उरदौना से मात्र 2 किमी दूर इस गांव में कोई भी बुनियादी सुविधाएं ग्रामिणों को उपलब्ध नहीं हो पा रही है, जिससे ग्राम पंचायत द्वारा कराए जा रहे विकास कार्यो की पोल खुलती नजर आ रही है।
ग्राम माईज्जा के निवासी दलसीग ने बताया कि इस गांव में 15 से 20 परिवार निवास कर रहे है। यहां पर पंचायत द्वारा कोई भी विकास कार्य नहीं कराए जा रहे है जिससे हम लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर है। बारिस के समय कीचड़ हो जाने से खेतो के कीचड़ भरे रास्ते से गुजरकर गांव तक जाना पड़ता है। हमारे छोटे छोटे बच्चें भी इन्ही कीचडय़ुक्त खतरीली पंगडंडियो के सहारे उरदौना गांव की आंगनवाड़ी केन्द्र पहुंचते है।
 
 टमाटर की राह पर चली प्याज, अब प्याज भी निकालेगी लोगो के आंसू
खुरई।
मध्यम एवं गरीब तबके के उपभोक्ताओ की पहुंच से दूर होते टमाटरो की लाली अभी कम नहीं हुई थी कि प्याज ने अपना रंग दिखाना षुरु कर दिया। 5 रुपया किलो बिकने वाली प्याज के दामो में अचानक उछाल आ जाने से 20 से 25 रुपया प्रति किलो खुदरा मूल्य पर बिकने लगी। धीरे धीरे उपर होते प्याज के दामो से लोग आषंकित होने लगे है कि कहीं टमाटरो की तरह प्याज भी आमलोगो की पहुंच से दूर न हो जाये।
सब्जी विक्रेता राजेष पटैल का कहना है कि राजस्थान में बाढ़ आ जाने की वजह से प्याज के दामो में उछाल आया है। वर्तमान में प्याज की आवक नासिक मंडी से हो रही है। राजस्थान में वारिस की स्थिति सामान्य होने पर प्याज के भाव में नरमी आ सकती है।


विद्यालयों में यह कैसा ध्वजारोहण
खुरई। जहां तिरंगा को पूरा देष सम्मान देता है, देष की एकता का प्रतीक तिरंगा, जिसके आगे हर देषवासी का सर सम्मान से झुक जाता है। इसकी षान में न जाने कितने लोग षहीद हो गये लेकिन अफसोस है कि षिक्षा विभाग के जबाबदार लोगो द्वारा विद्यालय में कैसे ध्वज फहराया जा रहा है जिसकी बानगी ग्राम करैया गूजर के माध्यमिक विद्यालय में देखने को मिली जहां राष्ट्रीय ध्वज को छोटी छोटी दो पतली लकड़ीयों में बांधकर फहराया गया।