सागर। अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष हाजी अजमेरी राईन के नेतृत्व में अल्पसंख्यक व्यापारियों के प्रतिनिधि मंडल ने विधायक शैलेन्द्र जैन को ज्ञापन सौपकर कहा कि, राधा तिराहे से डिम्पल पेट्रोल पम्प तक नजूल की भूमि पर 250 दुकानें विगत 50-60 वर्षो से टपरों के रूप में स्थापित है। इन दुकानों के माध्यम से लगभग 2 हजार परिवारों की परवरिश होती है।
समस्त टपरा वाले छोटा मोटा धंधा कर दैनिक मजदूरी के रूप में अपने परिवार का भरण पोषण करते आ रहे है। विगत दिनों तहसीलदार द्वारा इन्हें नोटिस देकर अतिक्रमण कारी बताया है एवं टपरों को हटाये जाने को कहा है। यदि इन दुकानों को  हटाया जाता है तो इस क्षेत्र में व्यापार कर रहे लगभग 250 दुकानदारों पर आर्थिक संकट उत्पन्न हो जायेगा एवं परिवार का भरण पोषण भी नहीं कर सकेगे।

उक्त संबंध में विधायक शैलेन्द्र जैन ने ज्ञापन सौपने आये प्रतिनिधि मंडल को आश्वस्त करते हुये कहा प्रशासनिक स्तर पर चर्चा कर यथासंभव प्रयास किया जायेगा। परन्तु उक्त स्थान पर स्थापित टपरों के सदस्यों द्वारा शपथ पत्र दिया जाये कि, जितनी जगह प्रशासन द्वारा इन्हें टपरों हेतु प्रदाय की गई है उससे अधिक जगह पर अतिक्रमण नहीं किया जावेगा। ज्ञापन सौपने वालों में अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष हाजी अजमेरी राईन के साथ अब्दुल नईम खान, जफर हुसैन, निसार अहमद, सप्पू भाई, इरफान खान, मख्खन पटैल, प्रेम बरार, राकेश साहू, कुन्नू विश्वकर्मा, शाकिर राईन, सलीम राईन, दीपक रजक सहित बड़ी संख्या में अल्पसंख्यक के सदस्य उपस्थित रहे।

कलेक्टर के घेराव का कार्यक्रम तय
सागर।
निजी स्कूल संचालन के लिए सरकार के स्पष्ट नियम कानून है। ये नियम अभिभावकों के हित में है लेकिन निजी स्कूल नियमों को ठेगा दिखाकर मनमानी कर रहे हैं न ये शासन के नियम मान रहे हैं और न प्रशासन के आदेश।

हाल ही में निजी स्कूल ने मिलकर सरकार पर केवल परेशान करने का आरोप लगाते हुए आंदोलन किया था। ऐसे में सागर विकास नागरिक मंडल की शिक्षा के शुद्धिकरण लिए आंदोलन करने वाली उपसमिति  अभिभावक छात्र हित सरंक्षण समिति ने आंदोलन को और तेज करने की भूमिका तैयार की है जिसमें हर स्कूल में वास्तविक पालक संघ के गठन के साथ कलेक्ट्रेट पर घेराव का कार्यक्रम तैयार किया गया है। निजी स्कूल की मनमानी पर लगाम लगाने संगठन मुख्यमंत्री निवास पर धरना भी देगा। सागर विकास नागरिक मंडल की उपसमिति अभिभावक एवं छात्रहित संरक्षण समिति की बैठक चंद्रा पार्क में संपन्न हुई। उक्त बैठक में वात्सल्य स्कूल पालक संघ के पदाधिकारी तथा अन्य स्कूलों के अभिभावक भी सम्मिलित हुए।

बैठक में मुख्य रूप से शिक्षा के शुद्धिकरण आंदोलन को आंगे बढ़ाने पर विचार किया गया तथा आगामी कायक्रमों की रूपरेखा तैयार की गयी। आगामी कार्यक्रमों में निजी स्कूलों में असली पालक संघों का गठन कराया जायेगा। पम्पलेट स्टिकर के माध्यम से  निज़ी स्कूलों के सम्बन्ध में शासकीय नियम कानून का प्रचार प्रसार किया जायेगा। सितम्बर माह में कलेक्ट्रेट का घेराव किया जायेगा जिसमे मांग की जायेगी कि निज़ी स्कूलों में मिली अनियमितताओ पर तत्काल कार्यवाही की जाये। उक्त बैठक के बारे में डॉ धरणेन्द्र जैन ने बताया कि शिक्षा का शुद्धिकरण आंदोलन निरंतर जारी रहेगा और सभी निज़ी स्कूलों में पालक संघ का गठन किया जायेगा बैठक में पंकज सोनी, राहुल समेले, सूर्यप्रकाश दुबे, दुर्गेश ब्रह्म्पुरिया, दीपक तिवारी, संतोष दुबे सहित बड़ी संख्या में अभिभावक उपस्थित थे।