प्रभारी मंत्री उमा शंकर गुप्ता ने कहा शीघ्र ला रहे है रेग्युलेशन
सागर।
निजी स्कूलों की मनमानी और फ ीस वृद्धि के खिलाफ  विगत 5 माह से चल रहे शिक्षा सुधार आंदोलन के तहत आज सागर विकास नागरिक मंडल की उपसमिति अभिभावक एवं छात्रहित संरक्षण समिति का एक प्रतिनिधि मंडल ने  प्रभारी मंत्री उमाशंकर गुप्ता एवं गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह से मुलाकात कर एक मांगपत्र सौंपा तथा मंत्री द्वय को बताया कि हम लोग निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ  पांच माह से आंदोलन कर रहे हैं तथा हमारी मांग के अनुसार 21  निजी स्कूलों के खिलाफ कलेक्टर की जांच में गंभीर अनियमित्ताएं मिली हैं एवं उक्त अनियमित्ताओं की वजह से स्कूलों को लगभग दो माह पहले कारण बताओं नोटिस जारी किये गए थे जिसमें कहा गया था कि तीन दिन के अंदर जवाब नहीं देने पर निजी स्कूलों की एनओसी रद्द की जायेगी तथा सीबीएसई को मान्यता रद्द करने हेतु अनुशंसा की जायेगी पर  उक्त स्कूलों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई वरन निजी स्कूल प्रशासन मनमानी फ ीस बृद्धि कर कलेक्टर  उस आदेश का मजाक उड़ा रहे हैं जिसमें कलेक्टर ने कहा कि अधिकतम दस फीसदी से अधिक फीस वृद्धि नहीं की जा सकती।  साथ ही दोनों मंत्रियों को बताया कि कलेक्टर इस मामले में कार्रवाई करने के बच रहे हैं।

उनसे कहा गया कि  शीध्र ही कार्रवाई न होने पर मंडल के सदस्य अन्न त्याग कर उपवास पर बैठ जायेंगे और सत्याग्रह शुरू करेंगे। इस पर प्रभारी मंत्री उमा शंकर गुप्ता ने कहा कि स्कूल शिक्षा सुधार एवं नियंत्रण हेतु जल्दी ही एक रेग्युलेशन सरकार ला रही है तथा फीस वृद्धि के मामले को भी देख रहे हैं। वहीं गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने भी 15 अगस्त के बाद मंडल से मीटिंग करने का आश्वासन दिया है। वहीं प्रतिनिधि मंडल ने वहां मौजूद विधायक शैलेंद्र जैन से भी बता की तो उन्होंने चर्चा हेतु 13 अगस्त को बुलाया है।
ज्ञापन सौंपने के बाद डॉ धर्णेंद्र जैन ने बताया कि दोनों मंत्रियों से सौहाद्रपूर्ण बात हुई तथा उन्होंने पांच माह से शिक्षा से सुधार के लिए चल रहे आंदोलन को समझा और कहा कि इससे लिए शीध्र ही एक रेग्युलेशन ला रहे हैं। प्रतिनिधि मंडल में राहूल समेले, पंकज सोनी, सुर्य प्रकाश दुबे, जनित चौकसे  अवधेश तोमर, मुकेश मिश्रा, गिरधर पटेल, रिंकु केशरवानी, महेंद्र साहू,  महेश तिवारी उपस्थित थे ।