90 हजार किसानों को होगा 243 करोड़ रूपये की राशि का वितरण
सागर।
खरीफ वर्ष 2016 के तहत प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की राशि का वितरण आगामी 16 से 31 अगस्त तक किया जाना है जिसमें व्यवस्थित ढंग से राशि का वितरण सुनिश्चित किया जाये। शासन द्वारा जिले में 90 हजार 337 किसानों को 243.20 करोड़ रूपये की राशि जारी की गई है। इस राशि को विकासखंड स्तर पर जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में शिविर लगाकर वितरित कराया जाये। यह निर्देश  जिले के प्रभारी मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिए। उन्होंने कहा कि राशि के वितरण के लिए कार्यक्रम तैयार कर लिया जाये। प्रभारी मंत्री ने कहा कि शासन स्तर पर लंबित मामलों के निराकरण के लिए सभी विभागों के अधिकारी जनप्रतिनिधियों का सहयोग लें।
    प्रभारी मंत्री ने कहा कि किसानों को शासन की विभिन्न कृषि योजनाओं का लाभ समय पर मिले। कृषि विभाग किसानों को योजनाओं का लाभ प्रदान करने के लिए किसानों को जागरूक करे। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा किसानों के हित के लिए मोबाइल एप जारी किया गया है जिसका लाभ उन्हें मिले। उन्होंने कहा कि किसानों को खाद-बीज वितरण के पूर्व उनके मानक-अमानक होने का निर्धारण कर लिया जाये।
    प्रभारी मंत्री ने वन विभाग की समीक्षा के दौरान कहा कि पौधे लगाने के साथ-साथ उनकी सुरक्षा भी बहुत जरूरी है ताकि वे बड़े होकर पेड़ बन सकें। उन्होंने कहा कि पौधे लगाये जाने की जानकारी विधायकों को भी विधानसभावार प्रदान की जाये। उन्होंने कहा कि यदि जिले में पौधरोपण के कारण कहीं पर पुराना रास्ता बंद होने या कोई व्यवहारिक कठिनाई हो तो उसे जनप्रतिनिधियों से मिलकर दूर कर लिया जाये।   प्रभारी मंत्री ने जल संसाधन विभाग की समीक्षा के दौरान कहा कि मुख्यमंत्री की मंषानुरूप हर गांव में पानी पहुंचाने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि नवीन स्वीकृत परियोजनाओं के कार्य यथाषीघ्र प्रारंभ करने की कोशिश करें। उन्होंने इस दौरान समिति सदस्यों के सुझावों को ध्यान में रखकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। समिति सदस्य  राजा दुबे ने सहजपुर क्षेत्र में सिंचाई परियोजना के माध्यम से पानी पहुंचाने का सुझाव रखा। कार्यपालन यंत्री जल संसाधन सागर ने विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। बैठक में बताया गया कि नवीन परियोजनाओं से जिले में 2 लाख 23 हजार 429 हैक्टेयर में सिंचाई क्षमता हो जायेगी।
    कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने बैठक के प्रारंभ में एजेण्डा पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इस जिला योजना समिति की बैठक में 3 विभागों कृषि, वन एवं जल संसाधन की समीक्षा की जा रही है। जिसके अंतर्गत समसामयिक विषयों को लिया गया है। बैठक के पूर्व सितम्बर 2016 में आयोजित पिछली बैठक के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा की गई। बैठक में उप संचालक कृषि ने कृषि विभाग की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। इसी तरह वनमण्डलाधिकारी दक्षिण वनमण्डल द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि जिले में 2 जुलाई को नर्मदा बेसिन में 2 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य था जिसके विरूद्ध 2 लाख 21 हजार 914 पौधे लगाये गये। वनमण्डलाधिकारी उत्तर वनमण्डल ने बताया कि सागर को सिटी फॉरेस्ट योजना में शामिल किया गया है जिसके अंतर्गत 10 हजार पौधे लगाये गये हैं। अगले 3 साल में 80 हजार पौधे लगाये जाना हैं।
    बैठक में सांसद लक्ष्मीनारायण यादव, विधायक  शैलेन्द्र जैन, विधायक हरवंश सिंह राठौर, विधायक  महेश राय, भाजपा जिला अध्यक्ष राजा दुबे, कलेक्टर आलोक कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक सत्येन्द्र कुमार शुक्ला, आयुक्त नगर निगम अनुराग वर्मा, सीइओ जिला पंचायत चंद्रशेखर शुक्ला, अपर कलेक्टर  दिनेश श्रीवास्तव, संयुक्त कलेक्टर श्रीमती प्रभा श्रीवास्तव, जिला योजना अधिकारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि तथा समिति के शासकीय-अशासकीय सदस्य उपस्थित थे।