जिला अस्पताल में सामने आया लापरवाही का मामला,जांच शुरू
रायसेन।
रायसेन जिला अस्पताल के बहार जमीन पर एक महिला की डिलेवरी होने का मामला प्रकाश में आने के बाद अस्पताल प्रबंधन की मुश्किले बढ़ गई और इंतजामों की पोल खुलती हुई नजर आ रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम संग्रामपुर की प्रसूता अनीता को अचानक तेज दर्द होने के बाद परिजन जैसे तैसे गांव से ऑटो से जिला अस्पताल पहुंचे लेकिन अस्पताल पहुंचने के बाद प्रसूता वार्ड में मौके पर एक भी डाक्टर ना होने की वजह से महिला की तकलीफ और अधिक बढ़ गई और असहनीय दर्द के बाद प्रसूता ने जिला अस्पताल के बहार स्थित  एम्बुलेंस गैरिज में एम्बुलेंस की आड़ लेकर जैसे तैसे डिलेवरी जमीन पर कराए जाने की नौबत बन गई और प्रसूता महिला ने जमीन पर बालक को जन्म दिया।
लापरवाही का मामला उजागर होने के बाद अस्पताल में अफरा तफरी मच गई और मौके पर पहुंचे सिविल सर्जन डॉ.बी बी गुप्ता ने पूरे मामले की जांच किए जाने की बात कहीं है। वहीं परिजनों ने आरोप लगाए कि अनीता को बहुत तेज दर्द हो रहा था और अस्पताल में मदद मांगी तो कोई सुनने तैयार नहीं हुआ इसलिए 2 एम्बुलेंस वाहन की आड़ लेकर प्रसूता की डिलेवरी कराई गई।
जननी कॉल सेंटर में नहीं लगता फोन:-
प्रसूता महिला के परिजनों ने बताया कि अचानक तेज दर्ज होने की वजह से एम्बुलेंस को फोन नहीं किया और प्रसूता को ऑटो से लेकर आए है। लेकिन वहीं आसपास के अन्य परिजनों के परिजनों ने बताया कि जननी कॉल सेंटर में कई बार फोन किए जाने के बाद भी फोन नहीं लगते है। जिससे परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।