शहर की सड़कों पर किया प्रदर्शन दिया ज्ञापन
रायसेन।
शुक्रवार को ग्राम रोजगार सहायक, सहाकय पंचायत सचिव कर्मचारी संघ के बैनर तले ग्राम रोजगार सहायकों द्वारा जिला मुख्यालय पर सड़क पर नारेबाजी करते हुए एसडीएम कार्यालय तक पहुंचे,जहां मांगों को लेकर ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में कहा गया कि  शासन का असाधरण राजपत्र दिनांक 23.05.2012 राजपत्र क्र 250 के द्वारा मध्यप्रदेश की ग्राम पंचायतों में अधिनियम की धारा 69 में उपधारा (1)में संशोधन करते हुए पंचायत सहायक सचिव नियुक्त किए जाने का प्रावधान किया गया है। 

राज्य शासन के निर्णय एवं प्रकाशित राजपत्र प्रावधान अनुसार म.प्र पंचायत एवं ग्रामीण विकास द्वारा आदेश क्र.932/761,13,22,ए दिनांक 06.09.2013 द्वारा म.प्र की ग्राम पंचायतों में महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत नियुक्त ग्राम रोजगार सहायकों को ग्राम पंचायतों के पंचायत सहायक सचिव घोषित कर पंचायत की सचिवीय व्यवस्था के अनुरूप मान कर सचिव प्रभार के लिए भी प्रावधान किए। ग्राम रोजगार सहायकों को पंचायत सहायक सचिव के पद पर जिला संवर्ग में संविलयन कर नियमित किया जाए।

1 सूत्रीए मांग को लेकर दिल्ली जाएंगे अध्यापक
- 20 अगस्त को जिला स्तरीय बैठक में बनेगी रणनीति
रायसेन।
शिक्षा विभाग में संविलियन की एक सूत्रीय मांग को लेकर प्रदेश के शोषित अध्यापक मांग को लेकर राज्य अध्यापक संघ के बैनर तले 1 सितम्बर को दिल्ली  के लिए रवाना होंगे। इसकी व्यापक तैयारियों के लिए जिला स्तरीय बैठक 20 अगस्त को दोपहर 1 बजे स्थानीय आरजीएम हायर सेकेण्डरी स्कूल अर्जुन नगर में आहुत की गई है। बैठक में जिला एवं ब्लाक के पदाधिकारी से अनिवार्य रूप से उपस्थित होने का आग्रह किया गया है। 

अपील करने वालों में प्रदेश उपाध्यक्ष गिरिश दुबे, प्रदेश महामंत्री सतेन्द्र गौर, प्रदेश मंत्री रेवक सिंह, प्रदेश संयुक्त सचिव राज कुमार खत्री, प्रदेश प्रतिनिधि काशीराम वर्मा, राकेश चौधरी, जिलाध्यक्ष एन के शर्मा, बाड़ी ब्लाक अध्यक्ष सुमेर सिंह गैरतगंज शिवनारायण सेन, उदयपुरा राजेन्द्र लोधी, ओगंग रवि शंकर बरहैया, गौहरगंज दीपक कुमार, रायसेन ममता मिठास,कुमुद श्रोति, रानी ताम्रे, मुन्ना ठाकुर, बृजेन्द्र जाट, वीरेन्द्र तिवारी, मनोहर सिंह, राजुकमार पारासर, कैलाश अहिरवार, पिंटू, विनोद मेहरा, विनीत दीक्षित, महेश शिल्पी, विवेक माहेश्वरी, विनोद दुबे आदि शामिल है।