रायसेन। राष्ट्र निगमों की विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं के अंतर्गत मध्यप्रदेश पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम भोपाल द्वारा ऋणों का वितरण जिला स्तर पर महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के माध्यम से पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक वर्ग के हितग्राहियों को वर्ष 2008-09 में किया गया था। जिला स्तर पर वितरित इन ऋणों की वसूली के लिए एकमुश्त समझौता योजना वर्ष 2016-17 में स्वीकृत की गई है। इन ऋणों की वसूली के लिए एकमुश्त समझौता योजना शिविर 23 अगस्त तथा 30 अगस्त तक प्रात: 11 बजे से जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र में आयोजित किए जा रहे हैं। इस समझौता योजना के तहत हितग्राहियों को एक वर्ष के भीतर 3 किश्तों में स्वीकृत ऋणों की मूलधन की राशि जमा करनी होगी। संबंधित हितग्राहियों से इस शिविर में उपस्थित होकर एकमुश्त समझौता योजना का लाभ प्राप्त करने की अपील की गई है।

नर्मदा सेवा मिशन के क्रियान्वयन हेतु बैठक 21 अगस्त को
रायसेन।
नर्मदा सेवा मिशन के क्रियान्वयन के लिए राज्य शासन द्वारा जिला स्तरीय समिति गठित की गई है। इस जिला स्तरीय समिति की बैठक 21 अगस्त को प्रात: 10.30 बजे से कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई है।


रायसेन में हुई रिमझिम बारिश लोगों को मिली राहत
लोगों को अच्छी बारिश का इंतजार
रायसेन।
शुक्रवार को शहर में शाम हुई रिमझिम बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत दी और मौसम में फिर एक बार ठण्डक घुल गई। जिससे लोगों ने तेज उमस से कुछ हद तक राहत की सांस ली। वहीं लोगों को अब अच्छी बारिश का इंतजार है। राससेन सहित जिले भर में 27 जुलाई 2017 के बाद से अच्छी बारिश नहीं होने की वजह से किसानों की फसल चौपट होने की कगार पर पहुंच गई है। वहीं जिन किसानों के पास खुद के सिंचाई के संसाधन है उनके द्वारा फसलों को जैसे तैसे मशक्कत किए जाने के बाद पानी दिया जा रहा है। वहीं क्षेत्र में इस बार बड़े पैमाने पर किसानों द्वारा धान लगाई गई है। लेकिन मानसून के रूठ जाने की वजह से किसानों के ऊपर संकट खड़ा हो गया है। 

जिले में 01 जून से 18 अगस्त 2017 तक 574.4 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है जो कि गत वर्ष इसी अवधि में हुई औसत वर्षा से 582.2 मिलीमीटर कम है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1327.5 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 18 अगस्त 2017 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र रायसेन में 690 मिलीमीटर, गैरतगंज में 594.3, बेगमगंज में 520.1, सिलवानी में 476.9, गौहरगंज में 529, बरेली में 708.6, उदयपुरा में 627 और वर्षामापी केन्द्र बाड़ी में 449 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।