भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज़ की शुरुआत शानदार फिफ्टी के साथ की. इस फिफ्टी के साथ ही कोहली अपने करियर की एक और उपलब्धि के करीब गए हैं.

कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे में 70 गेंदों में 82 रन बनाए और शिखर धवन के साथ 197 रनों की साझेदारी भी की. धवन और कोहली के शानदार खेल की बदौलत भारत ने 5 मैचों की वनडे सीरीज़ में 1-0 की बढ़त बना ली.

अब टीम इंडिया गुरुवार को पल्लेकल स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ दूसरा वनडे खेलने उतरेगी. भारत का लक्ष्य जीत की लय को बरकरार रखते हुए सीरीज़ में 2-0 की बढ़त बनाने की होगी. साथ ही ये मैच कप्तान कोहली के लिए भी ख़ास होगा.

दो स्टार बल्लेबाज़ों को पीछे छोड़ सकते हैं कोहली

कप्तान विराट कोहली एक कैलेंडर वर्ष में वनडे में सबसे ज़्यादा रन बनाने की दहलीज़ पर खड़े हैं. अगर वो दूसरे वनडे में 45 रन बनाने में कामयाब रहे तो दक्षिण अफ्रीका के फाफ डू प्लेसी और इंग्लैंड के जो रूट को पीछे छोड़ देंगे. कोहली ने इस साल 14 वनडे में दो शतक और 6 अर्धशतकों और 96.12 की कमाल की औसत से कुल 769 रन बनाए हैं.

सबसे आगे हैं डुप्लेसी

 

इस साल सर्वाधिक वनडे रन बनाने के मामले में दक्षिण अफ्रीका के फाफ डू प्लेसी सबसे आगे चल रहे हैं. उन्होंने 16 वनडे मैच में 58.14 की औसत से 814 रन बनाए हैं. वहीं 2 शतक और 5 अर्धशतकों की मदद से 14 मैच में 785 रन बना चुके इंग्लैंड के जो रूट इस लिस्ट में दूसरे स्थान पर हैं. यानी कोहली नम्बर वन बनने से सिर्फ 46 रन पीछे हैं. आजकल कप्तान जैसी बल्लेबाज़ी कर रहे हैं उसे देखते हुए लग रहा है कि वो आसानी से गुरुवार को डु प्लेसी और रूट को पीछे छोड़ देंगे.